20+ New Gulam Shayari, Status & Quotes | गुलामी पर शायरी | Gulami Shayari

New Gulam Shayari Status & Quotes _ गुलामी पर शायरी

Gulam Shayari: गुलाम कई तरह के होते हैं और गुलामी भी कई तरह की होती है जिसमें कुछ लोग शारीरिक रूप से गुलाम होते हैं तो कुछ लोग मानसिक रूप से गुलाम होते हैं। इस पर ही आज हम Gulami Shayari लेकर आये हैं जिसमें हम गुलामी पर शायरी, gulami status, gulami quotes in hindi, biwi ka gulam shayari, joru ka gulam shayari, gulami shayri और मानसिक गुलामी शायरी आपके साथ शेयर करेंगे।

New 30+ घटिया लोगों पर शायरी in hindi | Ghatiya Log

 

Gulami Shayari | गुलामी पर शायरी

Attitude Gulam Shayari Status

हम रहते हैं अपनी मर्ज़ी से

किसी के गुलाम नहीं हाते

छोटी मोटी मुसीबतों पर

किसीके आगे नहीं रोते।।

हम किसी की गुलामी कर नहीं पाते

अपने हिसाब से ज़िंदगी हैं बिताते

ना ही किसी के सामने झुकते हैं हम

और ना ही किसी को नीचा हैं दिखाते।।

हम गुलामी नहीं करते शायरी

इन बड़े लोगों की हम गुलामी नहीं करते

इसलिए साले हमसे हैं यह जलते

चाहते हैं वो झुका कर रखना हमें

हम झुकते नहीं ना ही किसी से डरते।।

दिल अब किसी का गुलाम नहीं होता

अब किसीकी यादों में यह नहीं रोता

कोई आये या फिर जाए ज़िंदगी से

अब मैं हर रात हूँ चैन से सोता।।

 

Gulam Shayari | गुलाम पर शायरी

मानसिक गुलाम शायरी gulami shayari

कुछ नहीं कर सकते वो ज़िंदगी में

जो गुलाम होते हैं

कुछ कर भी लें तो उनके नहीं

उनके मालिक के नाम होते हैं।।

मैं हुआ हूँ गुलाम तेरा तेरे इश्क़ में

अब तुम जैसे चाहो मुझे नचा लो

चाहे तो दिल देकर अपना बना लो

चाहे तो जान लेकर दुनिया से मिटा दो।।

मानसिक गुलामी शायरी

उससे बहस करने का क्या फायदा

जो मानसिक रूप से  गुलाम है

उसको तो वही अच्छा लगेगा न

जिसको वो हर रोज़ ठोकता सलाम है।।

Gulam Shayari In Hindi

तुमने अपनी आंखों से ना जाने

कैसा जादू चला दिया

दिल मेरे को अपनी नज़रों का

गुलाम बना लिया।।

 

Biwi Ka Gulam Shayari

joru ka gulam shayari

करते हैं प्यार इसलिए हर

काम में उसका साथ देते हैं

और यह लोग पता नहीं क्यों

मुझे बीवी का गुलाम कहते हैं।।

बर्तन धो देता है वो बीवी का

काम में हाथ बँटाता है

जो कभी खाना ना बनने पर

माँ पर चिल्ला दिया करता था।।

गुलाम शायरी

बीवी की बात मानने वाला हर 

शख्स उसका गुलाम नहीं होता

साथ मिलकर चलना पड़ता है

अकेले आदमी किसी काम का नहीं होता।।

Aurat Gulam Shayari

जैसे कहती है वैसे ही मान जाता हूँ

करता हूँ प्यार में उसको बहुत चाहता हूं

मुझे अच्छा लगता है उसका साथ देना

मगर लोगों से बीवी का गुलाम कहलाता हूँ।।

 

Joru Ka Gulam Shayari

 

गुलामी पर शायरी status

जोरू को गुलाम तो बना नहीं सकते

रूठ जाए तो जल्दी मना नहीं सकते

इसलिए जोरू का गुलाम बन कर

रहने में ही हम भलाई हैं समझते।।

माँ बाप ने सोचा था कि बनेगा बुढ़ापे में सहारा

जिसको बड़े प्यार से माँ बाप ने था पाला

वो तो जोरू का गुलाम निकला साला।।

जोरू का गुलाम शायरी

जो अपनी बीवी को इज़्ज़त से बुलाता है

हर हाल में उसका साथ निभाता है

देता है इस्त्री को उसके हक़ का सम्मान

लोग पागल कहते हैं उसे जोरू का गुलाम।।

जिसको माँ प्यार से खाना बना कर खिलाती थी

घर के काम को कभी हाथ तक ना लगवाती थी

आज बनाता है खाना वो बीवी के लिए

और धोता है बर्तन भी जोरू का गुलाम बनकर।।

 

Gulami Status | Joru Ka Gulam Status

 

Gulami Shayari Status or quotes

हर गलत बात को भी सही मानना

और सही बात को भी गलत कहना

होते हैं कुछ लोग दुनियां में ऐसे भी

जिन्हें अच्छा लगता है गुलामी में रहना।।

किसीके गुलामी हमसे होती नहीं 

हम रहते हैं शान से

गुलाम करने वाले भी डरते हैं

हमारी इसी अलग पहचान से।।

Gulam shayari Status

गुलामी में रह कर शेर को जब

बिना मेहनत मुफ्त का खाने की

आदत हो जाए, तो वो आज़ाद

होकर भी शिकार नहीं कर पाता।।

तेरी मासूमियत देख मेरा काम तमाम हो गया

जबसे देखा तुझे मैं तेरा गुलाम हो गया

किसीके सामने नहीं झुका कभी जो शख्स

तेरे सामने आते ही तुझे सलाम हो गया।।

 

Gulami Status In Hindi

 

यह प्यार मोहब्बत भी इंसान को

किसीके गुलाम बना देती हैं

फिर जैसे वो चाहता है हम उसके

ही इशारों पर चलने लगते हैं।।

Gulam Shayari In Hindi 

आज इंसान मशीनों का गुलाम हो चुका है

हर पल उसका मोबाइल में ध्यान हो चुका है

बिना मशीनों के आज का इंसान

बेकाम (निकम्मा) हो चुका है।।

Gulami Shayri

गुलामी की जंजीरों ने ऐसे

लोगों को जकड़ रखा है

छूटना चाहें भी तो मुफ़्त खाने के

लालच में नहीं छूट पाते।।

इश्क़ करके गुलामी हम करना नहीं चाहते

खुद के ही दिल के हाथों गुलाम बनना नहीं चाहते।।

 

गुलामी करने वालो पर शायरी | गुलामी शायरी

 

जो समझते हुए भी विरोध कर नहीं पाते

गलत काम को भी जो सही हैं बताते

ऐसे लोग ही तो गुलाम हैं कहलाते।।

हम किसी के गुलाम नहीं शायरी

रहते हैं अपनी मर्ज़ी से करते किसीको सलाम नहीं

आज़ाद हैं हम सोच से भी किसी के भी गुलाम नहीं।।

मुझे अपना बना लो हम तेरे गुलाम तक बन जाएंगे

अगर न मिले तुम हमको तो हम ज़िंदा ही मर जायेंगे।।

Gulami Shayri

क्या हुआ हमारा इस दुनियां में ज्यादा नाम नहीं

पर हम आजाद हैं किसी के गुलाम नहीं।।

यहां हर कोई वक़्त का गुलाम है

कब आना कब जाना यह बताना वक़्त का काम है

जिसने भी गुलाम कर लिए वक़्त को

उसका आज दुनियां में नाम है।।

 

Gulami Quotes In Hindi

 

जब गुलामी की आदत हो जाती है, तो ताकत किसी काम की नहीं रह जाती।।

आप जब किसीके मानसिक रूप से गुलाम हो जाते हैं तो उसके द्वारा किया हर काम आपको सही लगने लगता है।।

लो हमने भी सीख लिया गुलामी करने का ढंग अब पराए भी हमे अपना लिए करेंगे।।

Gulami Quotes

जब कोई आपकी ज़िंदगी को अपने तरीके से चलाने लगे तो समझ जाओ की गुलाम हो आप।।

जो गुलाम बनकर गुलामी नहीं कर सकते वो आज़ादी के लिए अपनी जान तक दांव पर लगा देते हैं।।

Attitude Gulam Shayari

आज़ाद है तू खुद को मानसिक गुलाम ना कर, इन दो कौड़ी के लोगों के आगे सलाम ना कर।।

 

दोस्तों आपको इस Gulam Shayari Blog Post में शेयर की गई mansik gulam shayari, biwi ka gulam shayari, joru ka gulam shayari, ishq me gulam shayari और गुलामी पर शायरी कैसी लगी हमें कमेंट करके जरूर बताएं।।धन्यवाद।।