बदलाव पर शायरी | Latest Badlav Shayari 2022

बदलाव पर शायरी

दोस्तों आज हम बदलाव शब्द पर बदलाव शायरी लेकर आये हैं इस बदलाव शायरी संग्रह में हम आपके साथ बदलाव पर शायरी, जीवन में बदलाव शायरी, समय के बदलाव पर शायरी और प्यार में बदलाव शायरी शेयर करेंगे।

यदि आपको यह बदलाव पर शायरी पसन्द आये तो इस शायरी को अपने दोस्तों, रिश्तेदारों और प्रेमी-प्रेमिका के साथ जरूर साँझा करें।

New 30+ घटिया लोगों पर शायरी in hindi | Ghatiya Log

 

बदलाव पर शायरी

 

डर को दबा कर

इसे तुम पीछे छोड़ दो

खुद को समझा कर तुम

बदलाव की तरफ मोड़ दो

 

Darr ko daba kar

Isey tum piche chhod do

Khud ko samjha kar tum

Badlav ki taraf mod do

 

लोगों की बातों को अनदेखा कर आगे बढ़ते रहना

लाख आये रास्ते में मुश्किलें मगर तुम चलते रहना

 

Logon ki baaton ko andekha kar agey badhte rehna

Laakh aaye raste mein mushkil magar tum chalte rehna

 

दुनियाँ में कुछ ही लोग बदलाव लाते हैं

बाकी सब तो जिंदगी गुजार कर चले जाते हैं

 

बदलाव पर शायरी

 

Duniya mein kuch hi log badlav laate hai

Baki sab toh zindagi guzar chale jate hai 

 

दुनिया में एक दिन बदलाव लाऊंगा

मैं लोगों को कुछ करके दिखाऊंगा

 

Duniya mein ek din badlav launga

Main logon ko kuch karke dikhaunga

 

कोशिश करते रहना तुम ज़रूर बदलाव लाओगे

सचाई के रास्ते चलते एक दिन कामयाब हो जाओगे

 

Koshish karte rehna tum zaroor badlav laoge

Sachai ke raste chalte ek din kamyab ho jaoge

 

मेहनत और हिम्मत से एक दिन उचाई को छुह जाओगे

मेरी दुआ है तुम एक दिन ज़िंदगी में बहुत आगे जाओगे

 

बदलाव पर शायरी

 

Mehnat aur himmat se ek din uchai ko chhuh jaoge

Meri dua hai tum ek din zindagi mein bahut agey jaoge

 

एक दिन तू भी आसमान को छुह जाएगा

सब्र रख एक दिन तेरा वक़्त भी आएगा

जो आज कहते हैं तुम्हें गलत

उनके लिए भी तू फिर सही हो जाएगा 

 

Ek din tu bhi aasman ko chhuh jayega

sabar rakh ek din tera waqt aayega

Jo aaj kehte hai tumhe galat

Unke liye bhi tu fir sahi ho jayega

 

लोगों की नज़रों में बदलो चाहे ना

मगर खुद में बदलाव लाते रहो।

हर एक बीतते लम्हें के साथ

खुद को बेहतर बनाते रहो

logo ki nazron mein badlo chahe na

Magar khud mein badlaav laate raho

Har ek beete rahe lamhe ke saath

Khud ko behtar banate raho

 

ए ज़िंदगी मुझे कितना भी पीछे हटा ले

चाहे जितनी बार मुझे गिरा ले

मैं झुकूंगा नहीं आगे बढ़ता रहूंगा

मैं ऐसे ही खुद को बदलता रहूंगा 

 

बदलाव पर शायरी

 

Ae zindagi mujhe kitna bhi peeche hataa le

Chahe jitni baar mujhe gira ke

Main jhukunga nahi agay badhta rahunga

Main aise hi khud ko badalta rahunga 

 

ज़िंदगी को बदलो तो सही बदल जाएगी

कोशिश करने पर पहाड़ भी फाड़े जा सकते हैं

 

Zindagi ko badlo toh sahi badal jayegi

Koshish karne par pahad bhi faade ja sakte hai

 

यह जो ज़िंदगी में मुश्किलें आती हैं

हमेशा बहुत कुछ सिखा जाती हैं

 

बदलाव पर शायरी

 

Yeh jo zindagi mein mushkilen aati hai

Humesha bahut kuch sikha jaati hai

 

हम बदल लेते हैं खुद को सामने वाले के अनुसार

हमें हर किसी में घुल मिल जाने की आदत है

 

Hum badal lete hai khud ko samne wale ke anusar

Hume har kisi se ghul mil jane ki aadat hai

 

जीवन में बदलाव शायरी

 

जीवन में बदलाव लाने के लिए मेहनत करनी पड़ती है

यूँ डर कर मुशिकलों से पीछे नहीं हटा जाता

 

Jeevan mein badlav lane ke liye mehnat karni padti hai

Yu darr kar mushkilon se peeche nahi hataa jata

 

निराश होकर ज़िंदगी में रुकना मत

मुसीबतों से लड़ते रहना झुकना मत

 

Nirash hokar zindagi mein rukna mat

Musibat se ladte rehna jhukna mat

 

दुनियाँ में गरीब आया था

मगर अमीर बन कर जाना है

इस ज़िंदगी को जीत कर

मुझे जीवन बदल कर दिखाना है

 

बदलाव पर शायरी

 

Duniya mein gareeb aaya tha

Magar ameer ban kar jana hai

Is zindagi ko jeet kar

Mujhe jeevan badal kar dikhana hai

 

कुछ लोग कमज़ोर होते हुए भी जीवन बदल देते हैं

कुछ बस वहीं खड़े सोचते रह जाते हैं।।

 

Kuch log kamzor hote huye bhi jeevan badal dete hai

Kuch bas wahi khade sochte reh jate hai

 

जीवन में एक ऐसा बदलाव लाना है

बिना रुके आगे बढ़ते जाना है

 

jeevan mein ek aisa badlav lana hai

Bina ruke agey badhte jana hai

 

चलते रहने का नाम ही है जिंदगी

रुक जाना तो मरने के सम्मान है

 

Chalte rehne ka naam hi hai zindagi

Rukk jana toh marne ke samaan hai

 

लाख मुसीबतों का सामने भी झुकूंगा नहीं

जीवन बदल कर रहूंगा में रुकूँगा नहीं

 

बदलाव पर शायरी

 

Lakh musibaton ke samne bhi jhukunga nahi

Jeevan badal kar rahunga main rukunga nahi

 

जितने तुम मेहनत करते हुए दर्द सह जाओगे

जीवन में उतने फिर मज़े भी ले आओगे

 

Jitne tum mehnat karte huye dard seh jaoge

Jeevan mein utne fir maze bhi le aaoge

 

यह ज़िंदगी ऐसे ही चलती जाएगी

मुसीबत आयी है तो टल भी जाएगी

कोशिश करने से यह ज़िंदगी

एक दिन बदल ही जाएगी 

 

Yeh zindagi aise hi chalti jayegi

Musibat aayi hai toh tall jayegi

Koshish karne se yeh zindagi

Ek din badal hi jayegi

 

समय के बदलाव पर शायरी

 

आज बुरा है तो क्या हुआ

कल को अच्छा भी आएगा

यह समय का पता नहीं चलता

एक दिन यह बदल ही जाएगा

 

Aaj bura hai toh kya hua

Kal ko acha bhi aayega

Yeh samay ka pata nahi chalta

Ek din yeh badal jayega

 

समय के बदलाव से डरकर रुक मत जाना

तुम चलते रहना और दुनियाँ को कुछ करके दिखाना

 

Samay ke badlav se darkar ruk mat jana

Tum chalte rehna aur duniya ko kuch karke dikhana

 

अच्छा बुरा वक्त आता जाता रहेगा

यह समय बदलता रहेगा

और हर एक को उसकी

हैसियत दिखाता रहेगा

 

समय के बदलाव पर शायरी

 

Acha bura waqt aata jata rahega

Yeh samay badlta rahega

Aur har ek ko uski

Hasiyat dikhata rahega

 

बिना रुके जो जीवन में मेहनत करता जाएगा

एक दिन वो बुरे समय को भी बदल कर दिखाएगा

 

Bina ruke jo jeevan mein mehnat karta jayega

Ek din woh bure samay ko bhi badal kar dikhayega

 

खुद को समय के बहाव के साथ बदलते रहो

मगर जिस काम पर भी लगे हो उसको करते रहो 

 

Khud ko samay ke bahaav ke sath badlte raho

Magar jis aam par bhi lage ho uski karte raho

 

समय के साथ खुद को बदलना पड़ता है

दुनियाँ के साथ साथ ही चलना पड़ता है

 

समय के बदलाव पर शायरी

 

Samay ke sath khud ko badlna padta hai

Duniya ke sath sath hi chalna padta hai

 

बीते कल में जो मेहनत करता

आज उसी का होता है,

समय आने पर दुनिया में

राज उसी का होता है ।

 

Beete kal mein jo mehnat karta

Aaj usi ka hota hai

Samay aane par duniya mein

Raaz usi ka hota hai

 

प्यार में बदलाव शायरी

 

प्यार में अक्सर लोग बेवफाई कर जाते हैं

आदत डालकर फिर खुद ही बदल जाते हैं

 

Pyar mein aksar log bewafai kar jate hai

Aadat dalkar fir khud hi badal jaye hai

 

बदल जाते हैं दिल से चाहने वाले

बेवफा हो जाते हैं झूठी कसमें खाने वाले

 

Badal jate hai dil se chahne wale

Bewafa ho jate hai jhuthi kasme khane wale

 

बदल जाने वाले को बदलने दो

तुम एक तरफा प्यार करते रहो

 

बदलाव पर शायरी

 

Badal jane wale ko badlne do

Tum ek tarfa pyar karte raho

 

झूठी उसकी मोहब्बत झूठा सा प्यार है

बदल जाना तो उसका बचपन से किरदार है 

 

Jhuthi uski mohabbat jhutha sa pyar hai

Badal jana toh uska bachpan se kirdar hai

 

प्यार में लोग धोखेबाज होते देखे हैं

जो रहते ना थे एक भी पल बिन हमारे

हमने प्यार में ऐसे इंसान बदलते देखे हैं

 

Pyar mein log dhokhebaj hote dekhe hai

Jo rehte na the ek bhi pal bin humare

Humne pyar mein aise insaan badlte dekhe hai

 

प्यार करके वो बदल गया

बेवफाई कर वो चला गया

 

Pyar karke woh badal gaya

Bewafai kar woh chala gaya

 

Read More: 👇

वक़्त पर शायरी | 100+ Best Waqt Shayari in hindi