111+ जिसकी माँ नहीं होती शायरी | Heart Touching Maa Shayari [2022]

जिसकी माँ नहीं होती शायरी: हर एक शक़्स का पहला प्यार माँ होती है जो हमें इस दुनियाँ में लेकर आती है मगर कुछ लोगों के सर से माँ का साया बहुत कम उम्र में उठ जाता है। जिन्हें माँ का प्यार नसीब नहीं हो पाता उनके पास बस वही कुछ पलों की यादें रह जाती हैं जो माँ के साथ बिताए होते हैं।

माँ का छोड़ कर चले जाना शायद शायद सबसे बड़ा दर्द है, इसी दर्द पर हम जिसकी माँ नहीं होती शायरी लेकर आये हैं। इसमें हम आपके साथ उनका दर्द शेयर करेंगे जिनकी माँ नहीं होती। इसमें माँ के चले जाने के बाद और माँ के बिना जीवन पर भी शायरी संग्रह आपके साथ शेयर कर रहे हैं।

 

इससे पहले हम माँ पर कुछ शायरी और स्टेटस आपके साथ शेयर कर चुके हैं जिसे आप यहाँ से (Ammi Jaan Shayari, Mom Status In Punjabi,Paas bulati hai lyrics देख सकते हो।

 

जिसकी माँ नहीं होती शायरी | Jiski Maa Nahi Hoti Shayari

 

जिसकी माँ नहीं होती

उनका बुरा हाल होता है

बच्चों का माँ के बिना ना

अच्छा संभाल होता है

 

कौन सी है वो चीज़

जो यहाँ नहीं मिलती,

सब कुछ मिल जाता है 

पर माँ नहीं मिलती​।

जिसकी माँ नहीं होती शायरी

माँ के बिना रोते को ना

कोई चुप कराता है

जिसकी माँ नहीं वो

रोये तो रोता रह जाता है

 

जब भी दिल में सच्चे

प्यार का एहसास आता है

माँ तेरी क़सम मुझे बस

तेरा प्यार याद आता है

 

जिनके सर पे ममता की दुआएं हैं  

किस्मत वाले वो हैं जिनकी मांएं हैं 

जिस्म तो होता है पर जान नहीं होती 

उनसे पूछो जिसकी माँ नहीं होती

जिसकी माँ नहीं होती शायरी3

माँ तुझसे मिलने को बेकरार हूँ

पर तेरे पास नहीं आ रहा क्यूंकि

तेरी आखिरी ख्वाहिश

मेरी लम्बी उम्र की थी।

 

जिस तारे में तू है सबसे ज्यादा

वो तारा चमकाऊंगा

बहादुर लाल हूँ मैं तेरा माँ

जीत के दिखाऊंगा

रोना नहीं चाहता पर

यह दिल कहाँ मानता है

जिसकी माँ नहीं होती

वही माँ की कद्र जानता है

Lines by Skater Rahul

 

दुआ है रब से वो

शाम कभी ना आए,

जब माँ दूर मुझसे हो जाए।

जिसकी माँ नहीं होती शायरी

जिसकी माँ नहीं होती उससे पूछो

माँ की कीमत क्या होती है

पूरे दिन में बेचैन और

रात मैं नींद कहाँ पूरी होती है

 

माँ जब से तू पास नहीं है

मुझे तेरी यादों के सिवाय

कुछ और याद आता ही नहीं।

 

खाना खाने के लिए मेरे पीछे वो भागती थी

मैं उसे छोड़ दोस्तों के साथ भाग जाता था

आज जब भूख लगती है तो याद आता है

मैं अपनी माँ को कितना सताता था

जिसकी माँ नहीं होती शायरी
जिसकी माँ नहीं होती शायरी

ये दुनिया अंजानी है माँ

मैं फिर उस दुनिया में जाना चाहता हूँ

जहाँ तू ही मेरी दुनिया थी।

 

उनसे पूछो जिसकी माँ नहीं होती

वो हर रोज़ यही सवाल को तड़पते है

माँ पूछती थी खाना खाया

वो हर रोज़ यही सवाल पूछ कर सताती थी

अरे पागल उसको तो तेरी चिंता सताती थी

Lines by Arjit Tiwari

 

मैं नहीं चाहता की वो खुदा

मेरी हर ख्वाहिश सुन ले

पर बस ये चाहता हूँ

तू बस एक आखिरी दफा

मेरी माँ से मेरी बात करा दे।

 

माँ के चले जाने के बाद

 

खाना खाती है माँ

बच्चों को खिलाने के बाद

यह बातें याद आती हैं

माँ के चले जाने के बाद

 

आँखों में आंसू और

होठों पे मुस्कान रखते है

जब माँ की याद आए

दुनिया से छुप कर रो लेते है

जिसकी माँ नहीं होती शायरी

मैं खाना नहीं खाता था तो

वह भी भूखी रहती थी

मेरी माँ मुझसे इतना

ज्यादा प्यार करती थी

 

माँ के चले जाने के बाद

मुश्किल होता है संभल पाना

खुदा किसी से उसकी

माँ ना छीन कर ले जाना

 

किसी को घर मिला हिस्से में

या कोई दुकाँ आयी,

मैं घर में सबसे छोटा था

मेरे हिस्से में माँ आयी।

जिसकी माँ नहीं होती शायरी
जिसकी माँ नहीं होती शायरी

याद आती है बहुत माँ तेरी

लौट आओ न फिरसे पास मेरे

तेरे चले जाने के बाद सब छोड़ गए

जो रिश्तेदार भी थे खास तेरे।।

 

माँ तेरे दूध का हक मुझसे अदा क्या होगा!

तू है नाराज ती खुश मुझसे खुदा क्या होगा!

 

जन्नत का हर लम्हा, दीदार किया था,

गोद मे उठाकर जब माँ ने प्यार किया था।

जिसकी माँ नहीं होती शायरी
माँ के चले जाने के बाद

हर झुला झूल के देखा पर,

माँ के हाथ जैसा जादू कही नही देखा।

 

हालात बुरे थे मगर 

अमीर बना कर रखती थी

हम गरीब थे यह बस

हमारी मां जानती थी।

माँ के चले जाने के बाद शायरी

तकिये पर सोकर अब

वो सुकून नहीं मिलता

जो माँ की गोद में सर रख

कर सोने से मिलता था।।

 

मैं बैठा सोचता रहता हूँ

घर में माँ ढूंढता रहता हूँ

माँ के चले जाने के बाद

मैं हर पल रोता रहता हूँ।।

 

जब दवा काम नहीं आती है,

तब माँ की दुआ काम आती है।।

 

माँ के बिना जीवन

 

माँ के बिना जीवन में

बिल्कुल ना रहा उजाला है

माँ तेरे बाद मैंने खुद को

अभी तक ना संभाला है

 

भूल जाता हूँ परेशानियां जीवन की सारी,

माँ अपनी गोद में जब मेरा सर रख लेती है।

जिसकी माँ नहीं होती शायरी
माँ के बिना जीवन

माँ के बिना जीवन भी बेकार लगने लगता है

दुनियाँ छोड़ जाने का खयाल आने लगता है

 

वो जीवन में न कभी बर्बाद होता है,

जिसके सिर पर माँ का आशीर्वाद होता है।

 

न तेरे हिस्से आयी न मेरे हिस्से आयी,

माँ जिसके जीवन में आयी उसने जन्नत पायी।

 

माँ के बिना किसी का जीवन ना हो

भगवान सब को माँ का प्यार दे

माँ के प्यार के लिए कभी

किसी की आंखें ना रो

माँ के बिना जीवन शायरी

मां वो सितारा है जिसकी गोद में

जाने के लिए हर कोई तरसता है,

जो मां को नहीं पूछते वो

जिंदगी भर जन्नत को तरसता है।

 

माँ तेरे बिना जीवन हो सोच नहीं सकता

मैं रह नहीं पाता तेरे बिन मुझे छोड़ ना जाना।।

 

वह माँ ही है जिसके रहते,

जीवन में कोई गम नहीं होता,

दुनिया साथ दे या ना दे पर,

माँ का प्यार कभी कम नहीं होता।

 

हर पल में ख़ुशी देती है माँ,

अपनी ज़िन्दगी से जीवन देती है माँ..

भगवन क्या है माँ की पूजा करो जनाब!!!

क्योंकि भगवान को भी जनम देती है माँ.

 

अंतिम शब्द

 

दोस्तों यदि यह दर्द भरी शायरी पढ़ कर आपकी आंखों में आंसू आये तो आप इस जिसकी माँ नहीं होती शायरी को अन्य लोगों के साथ शेयर कर सकते हैं। या फिर आप इस शायरी को कॉपी करके अपने व्हाट्सएप स्टेटस और फेसबुक स्टोरी पर भी शेयर कर सकते हैं।

यदि आप माँ से जुड़ी और शायरी पढ़ना चाहते हैं तो इस ब्लॉग पोस्ट की शुरुआत में हमने आपसे उन सभी शायरी का लिंक शेयर किया है आप वहाँ से माँ के लिए शायरी को देख सकते हैं।