10+ Best Jigar Shayari In Hindi | जिगर शायरी (2022)

Jigar Shayari _ जिगर शायरी _ Jigar Status

In today’s article, we are going to share Jigar Shayari with you, in this collection of Jigar Shayari, Jigar Wali Shayari, Jigar Ki Shayari and Jigar Status will be seen. We hope you like this shayari, so let’s start with Tere Jigar Ka Challa Shayari.

दिल तोड़ दिया तूने बेवफा शायरी | 20+ New Dil Tod Diya Shayari (2022)

 

Jigar Shayari | जिगर शायरी | Jigar Status

 

जिगर वालो का डर से

कोई वास्ता नही होता

हम वहाँ कदम रखते हैं

जहाँ पे कोई रास्ता नही होता।।

Jigar walo ka darr se

Koi wasta nahi hota

Hum waha kadam rakhte hain

Jaha pe koi rasta nahi hota…

 

हम दिल और जिगर दोनों रखते हैं

न दोस्तों की कमी न दुश्मनों की।।

Hum dil or jigar dono rakhte hain

Na dosto ki kami na dushmano ki…

 

जिगर वाली शायरी

कमाल का जिगर है तुम्हारा

इतने दिल तोड़ कर भी तुम्हें

खुद पर बुरा नहीं लगता।।

Kamaal ka jigar hai tumhara

Itne dil tod kar bhi tumhein

Khud par bura nahi lagta…

 

मेरे जिगर के टुकड़े टुकड़े करके तुम चल दिए

मेरा दिल तोड़ तुम ज़िंदगी से निकल लिए।।

Mere jigar ke tukde tukde

Karke tum chal diye

Mera dil tod tum

zindagi se nikal liye…

 

जिगर की शायरी

हम बड़ा जिगर ओर दिल खुला रखते हैं

हमारे आगे तेरे जैसे निगाहें नीची रखते हैं।।

Hum bada jigar or dil

khula rakhte hain

Hamare aage tere jaise

nigahein niche rakhte hain…

 

दिल टूटा तो जिगर भी छोटा पड़ गया

इश्क़ में जिगर वाला बंदा भी मर गया।।

Dil toota toh jigar bhi chhota pad gaya

Ishq mein jigar wala banda bhi mar gaya…

 

Jigar shayari hindi

तोड़ कर दिल हमारे जिगर को परख रहा है वो

धोखा देकर प्यार की उम्मीद करता है जो।।

Tod kar dil hamare jigar ko

parakh raha hai woh

Dhokha dekar pyar ki

umeed karta hai jo…

 

बड़ा कर लिया है अब हमने हमारा जिगर

कोई मिले या न मिले हम नहीं करते फिक्र।।

Bada kar liya hai ab humne hamara jigar

Koi mile ya na mile hum nahi karte fikar…

 

Jigar shayari status

सज़ा देते हो बेवफाई करते हो

और मज़ा लेते हो

तुम हमारे इश्क़ को ना जाने क्या

समझते रहते हो।।

Saja dete ho bewafai karte ho

Aur maza lete ho

Tum hamare ishq ko na jane kya

Samjhte rehte ho… 

 

करते हो बेवफाई खुद को

वफादार बताते हो

रोज़ नया दिल तोडने के लिए

जिगर कहाँ से लाते हो।।

Karte ho bewafai khud ko

Wafadar batate ho

Roz naya dil todne ke liye

Jigar kaha se laate ho…

 

तेरे जिगर का छल्ला शायरी

मेरा यार थोड़ा समझदार ओर थोड़ा झल्ला है

जैसा भी है मगर मेरे जिगर का छल्ला है।।

Mera yaar thoda samjhdar

Or thoda jhalla hai

Jaisa bhi hai magar mere

Jigar ka challa hai…

 

सच्चे दोस्त औकात नहीं देखा करते

साथ निभाने वाले कभी हालत नहीं देखा करते।।

Sache dost aukat nahi dekha karte

Sath nibhane wale kabhi

Halaat nahi dekha karte…

 

तेरा यार बन कर यारी निभाउंगा

तेरे जिगर का छल्ला बन कर चला आऊंगा।।

Tera yaar ban kar yaari nibhaunga

Tere jigar ka challa ban kar chala aunga

 

Jigar shayari 2 lines

वो सब समझ जाते है

हर पल साथ निभाते है..

ऐसे दोस्त किसी किस्मतवाले

को ही मिल पाते है।।

Woh sab samajh jate hain

Har pal sath nibhate hain

Aise dost kisi kismat wale

Ko hi mil paate hain…

 

तेरे इश्क़ की चाहत में मैं मर जाता हूँ

दिल जान ओ जिगर से तुझे चाहता हूँ।।

Tere ishq ki chahat me main mar jata hu

Dil jaan o jigar se tujhe chahta hu…

 

Jigar Par Shayari

जिगर पर वार करते हो

दिल पर जब हाथ धरते हो

कहते हो प्यार है हमें आपसे

फिर यह बेवफाई क्यों करते हो।।

Jigar par war karte ho

Dil par jab hath dharte ho

Kehte ho pyar hai hume aapse

Fir yeh bewafai kyu karte ho…