50+ Nikah Shayari | Best निकाह शायरी

Nikah Shayari

दोस्तों हम आपके लिए Nikah Shayari Collection लेकर आये हैं इस निकाह शायरी संग्रह में हम आपके साथ: nikah shayari in hindi, nikah shayari urdu, naseeb nikah shayari & islamic nikah shayari साँझा कर रहे हैं।

 

यदि आप निकाह शब्द का मतलब नहीं जानते तो हम आपको बता दें कि निकाह को हिंदी में विवाह और अंग्रेजी भाषा में marriage कहा जाता है। दोस्तों इस निकाह पर शायरी को आप अपने दोस्तों, रिश्तेदारों, प्रेमी और प्रेमिका से शेयर ज़रूर करें।

 

50 Maut Shayari In Hindi

आज उसका निकाह हो रहा है

वो हमसे आज जुदा हो रहा है

सुना है उसके करीबी लोगों से

के बीते लम्हें याद कर वो रहा है

 

बहुत रह लिए दूर दूर सनम

चलो मिलकर एक हो जाते हैं

करके बगावत अपनों से

चलो हम निकाह रचाते हैं

 

बेवफा तेरे जाने के बाद

मैं अंदर से मर जाएगा

तुम तो निकाह कर खुश रहोगी

मगर मैं कैसे खुश रह पाऊंगा

 

 

Nikah shayari status

 

किसी गैर के साथ निकाह को

क्यों तुम क़बूल कर आई हो

ए बेवफा मुझसे धोखा कर

यह कैसी तुम भूल कर आई हो

 

उसने पूछा आपके प्यार को

कबूल कर लूं तो क्या करोगे

मैंने कहा इंशाल्लाह

वफ़ा करेंगे और निकाह करेंगे

 

इश्क़ यह जो तुम कर रही हो

इसे कब तक निभा पाओगी

क्या हमसे निकाह करोगी या

घर वालों के आगे झुक जाओगी

 

तेरे चाहने वाले होंगे बहुत

मेरी तरह कोई चाहेगा नहीं

जिस्म की चाहत में इश्क़ करेंगे बहुत

मगर निकाह कोई कर पाएगा नहीं

 

दिल को खोल कर एक बात कहना चाहता हूँ

बैठो मेरे पास तुम्हें हाल ए दिल सुनाता हूँ

तुम्हें चाहता हूँ किस हद्द तक यह बताता हूँ

हर हाल में मैं तुमसे निकाह करना चाहता हूँ

 

Islamic Nikah Shayari

 

तुम दुल्हन बन कर आ रही हो

मेरे इस छोटे से आशियाने में

दिन रात दुआएँ मांगी थी

जिसको हमने पाने में

 

तुम जुदा होकर हमसे जश्न मना रहे हो

सुना है कुछ दिन बाद निकाह रचा रहे हो

हमें दुखी कर देकर तोहफे में गम

तुम बेवफा नयी दुनिया बसा रहे हो

 

Nikah shayari status

 

यह गम भी मुझसे दूर जाने का नाम नहीं लेते

जैसे मुझसे निकाह ही कर लिया हो इन्होंने

 

दिल में बजने लगा है एक प्यार भरा सा साज

क्योंकि हमारा निकाह आपसे हो रहा है आज

 

ए इश्क़ तू कब तक रुलाएगा

एक दिन हमारा भी निकाह हो जाएगा

 

हर इश्क़ का मतलब निकाह नहीं होता

और हर निकाह का मतलब इश्क़ नहीं होता

 

तुमसे इश्क़ कर निकाह करना है

तेरे बाद फिर किसी पर ना मरणा है

 

तुम्हें देख कर दिल में हलचल तेज़ हो जाती है

जब तू दुल्हन की तरह सज्ज कर चली आती है

 

Nikah Shayari urdu

 

Nikah Shayari status
Nikah Shayari status

भूलने की भी कोशिश करता हूँ मगर भुला नहीं पाता

तुमसे निकाह भी करना चाहता हूँ मगर बता नहीं पाता

 

तुमसे ही निकाह हो यह हर रोज़ दुआ करते हैं

हम ज़िंदगी भर का तेरा साथ खुदा से मांगा करते हैं

 

खुदा ने चाहा तो तुमसे निकाह रचाऊंगा

तुम्हें अपनी बेगम बनाकर ले जाऊंगा

 

प्यार किया है तो फिर वफ़ा भी निभाएंगे

तेरे साथ निकाह कर तुम्हें अपने घर ले जाएंगे

 

Nikah shayari status

 

काश इश्क़ में धोखे की कोई सजा होती

तो आज मुझसे कर वो रही निकाह होती

 

मोहब्बत सच्ची है तो निकाह कर लो

यूँ छुप छुप कर मिलना अच्छा नहीं है

 

तेरे हाथ को अपने हाथ में थाम लेता हूँ

तुम मानो तो तुमसे कर निकाह लेता हूँ

 

प्यार करो तो आखरी दम तक वफ़ा निभाओ

निकाह करके मेरे साथ तुम मेरे हो जाओ

 

Muslim nikah shayari

 

इस ज़िंदगी में अब खुशियां भर लेते हैं

चलो ना हम निकाह कर लेते हैं

 

निकाह कर जिस्मों के मिलने की ज़रूरत ना रही

हम रूह से एक दूसरे में मिल चुके हैं अब

 

दिल देखकर होता है इश्क़

हुस्न देख कर तो निकाह हुआ करते हैं

 

 

Nikah shayari quotes

 

सज्ज सँवर कर उसने क़बूल है कबूल है फरमाया होगा

उसने किसी और का हाथ थाम निकाह रचाया होगा

 

फलक से चांद उतरेगा तारे मुस्कुराएंगे.

हमें खुशी तब होगी जब आप हमारे निकाह में आएंगे.

 

शादी मुबारक हो प्यार ही प्यार तुमको मिले,

दिल से दुआ है यह मेरी प्यारा सा संसार तुमको मिले.

 

Naseeb nikah shayari

 

 

कोई नसीब वाला निकाह कर

उसको अपने साथ ले जाएगा

मैं बदनसीब सा खड़ा इन राहों में

उसको जाते देखता रह जाऊंगा

 

मेरे नसीब में ना था उसका साथ लिखा

इसलिए खत्म हो गया हमारा प्यार

वो निकाह कर के चली गयी

मैं करता रह गया उसका इंतेज़ार

 

नसीब की बात है शायद

जिसके अच्छे थे वो ले गया

मैं तो बस खुदा से उसको

दुआओं में मांगता रह गया

 

Nikah shayari quotes

 

लड़का कहता है👇

घर वालों की इज्जत और मजबूरी बता

किसी और की होने जा रही हो

मुझे यूँ तड़फता छोड़ कर

किसी गैर से क्यों कर निकाह रही हो

 

लड़की जवाब देती है 👇

मेरे साथ निकाह तो कर लेगा मगर

मेरे दिल में जगहा बना पाएगा नहीं

इस दिल पर लिखा है जो नाम तेरा

मेरे दिल से नाम मिटा पाएगा नहीं

 

खुशियों से भरी बातों को

ज़हन में आने नहीं देता

यह तेरी यादें और तन्हाई

मुझे घेरे रखती है

जब से निकाह कर

तुम हो गयी किसी गैर की

यह खुशियां तबसे

मेरा होने को तरसती हैं

 

Read More: Khamoshi status | khamoshi shayari