वक़्त पर शायरी | 100+ Best Waqt Shayari in hindi

Waqt Shayari In Hindi में हम वक़्त पर शायरी के कलेक्शन को शेयर करने वाले हैं। वक़्त जिसके साथ हम सब चलते हैं कभी ज़िन्दगी में अच्छा वक़्त आता है तो कभी बुरा यह सिलसिला अक्सर चलता रहता है, वक़्त जिसके साथ बहुत कुछ बदल जाता है, कुछ वक्त के साथ पीछे छूट जाता है और आगे बढ़ते वक़्त के साथ उसमें कुछ जुड़ जाता है।। जिस वक़्त के साथ साथ हमें चलना होता है यदि हम नहीं भी साथ चलते तो वक़्त हमारा कभी इंतेज़ार नहीं करता यह आगे चलता रहता इस वक़्त के अलग अलग पड़ाव को पेश करती है यह शायरी:-

 

वक़्त पर शायरी | Waqt Shayari in hindi | Shayari On Waqt

 

Waqt Shayari in hindi, Waqt Shayari Image, वक़्त पर शायरी, waqt

1.Waqt Shayari

वक़्त ने सब कुछ बदल कर रख दिया

ना वो रहे ज़िन्दगी में ना उनकी यादें

Waqt Ne Sab Kuch Badal Kar Rakh Diya

Naa Woh Rahe Zindagi Mein Naa Unki Yaadein

 

2.Waqt Shayari

ना जाने कैसे वक़्त बदल जाता है

जो कभी हमें एक नज़र

देखने के लिए तरसता था

आज वो देख कर

नज़रअंदाज़ कर जाता है

Naa Jane Kaise Waqt Badal Jata Hai

Jo Kabhi Humein Ek Nazar

Dekhne Ke Liye Tarasta Tha

Aaj Woh Dekh Kar

Nazarandaz Kar Jaata Hai

 

3.Waqt Shayari

इस वक़्त पर किसी की नहीं चलती

वक़्त भी यह कैसा खेल रचाता है

कल तक जिसको पाने की दुआ मांगते थे

आज उसको दिल भुलाना चाहता है

Is Waqt Par Kisi Ki Nahi Chalati

Waqt Bhi Yeh Kaise Khel Rachata Hai

Kal Tak Jisko Paane Ki Dua Mangte The

Aaj Usko Dil Bhulana Chahta Hai

 

4.Waqt Shayari

वक़्त के साथ कुछ ज़ख्म मिलते हैं

और पुराने ज़ख्म भर भी जाता हैं

जिसके लिए वक़्त के साथ चाहत बड़ी थी

बीतते वक़्त के साथ दिल उसे भूल जाता है

Waqt Ke Saath Kuch Zakham Milte Hai

Aur Purane Zakham Bhar Bhi Jaata Hai

Jiske Liye Waqt Ke Sath Chahat Badi Thi

Beetate Waqt Ke Sath Dil Usey Bhul Jaata Hai

 

Waqt Shayari in hindi, Waqt Shayari Image, वक़्त पर शायरी, waqt

5.Waqt Shayari

वक़्त दिखाई ना देकर भी

बहुत कुछ दिखाता है

वक़्त के बदलने का कोई वक़्त नहीं

वक़्त के साथ यह बहुत कुछ सिखाता है

Waqt Dikhayi Naa Dekar Bhi

Bahut Kuch Dikhata Hai

Waqt Ke Badlne Ka Koi Waqt Nahi

Waqt Ke Sath Yeh Bahut Kuch Sikhata Hai

 

6.Waqt Shayari

हमारी किस्मत बदलने के बाद

मेरा वक़्त बदल गया

जैसे जैसे हम बर्बाद होते गए

वक़्त के साथ वो शख्स बदल गया

Humari Kismat Badlne Ke Baad

Mera Waqt Badal Gaya

Jaise Jaise Hum Barbad Hote Gaye

Waqt Ke Sath Woh Shakhs Badal Gaya

 

7.Waqt Shayari

अभी तो बहुत वक़्त है

उसे आज़माने दो

एक दिन रो रो कर पुकारेंगे हमें

हमारा वक़्त तो आने दो

Abhi Toh Bahut Waqt Hai

Usey Aazmane Do

Ek Din Ro Ro Kar Pukarenge Hume

Humara Waqt Toh Aane Do

 

8.Waqt Shayari

ज़िन्दगी बदलने के लिए भी

एक वक़्त आया था

वो तो छोड़ कर जाना चाहते थे

हमने खुद ही उसको वापिस बुलाया था

Zindagi Badlne K Liye Bhi

Ek Waqt Aaya Tha

Woh To Chhod Kar Jana Chahte The

Humne Khud Hi Usko Wapis Bulaya Tha

 

9.Waqt Shayari

एक वक़्त था जब वो हमें चाहता था

हमारे रूठ जाने पर हमें मनाता था

आज ना वक़्त रहा ना उसकी चाहत

जो मुझे कभी खोना नहीं चाहता था

Ek Waqt Tha Jab Woh Hamein Chahta Tha

Humare Rooth Jane Par Humein Manata Tha

Aaj Naa Waqt Raha Naa Uski Chahat

Ho Mujhe Kabhi Khona Nahi Chahta Tha

 

Waqt Shayari In Hindi | 50+ Hindi Shayari

Waqt Shayari in hindi, Waqt Shayari Image, वक़्त पर शायरी, waqt

10.Waqt Shayari

जब आपका चेहरा सामने आता है

यह दिल अंदर से बहुत मुस्कराता है

लाख गम लिए फिरते हैं दिल में

फिर भी तुझे देखते वक़्त सब भूल जाता है

Jab Aapka Chehra Samne Aata Hai

Yeh Dil Andar Se Bahut Muskurata Hai

Laakh Gam Liye Firte Hai Dil Mein

Fir Bhi Tujhe Dekhte Waqt Sab Bhul Jata Hai

 

11.Waqt Shayari

तू निकल तो वक़्त की तलाश में

अच्छा वक़्त खुद नहीं आएगा

तू मेहनत करता रह बस

एक दिन वक़्त बदल जाएगा

Tu Nikal Toh Waqt Ki Talaash Mein

Achha Waqt Khud Nahi Aayega

Tu Mehnat Karta Reh Bas

Ek Din Waqt Badal Jayega

 

12.Waqt Shayari

कभी जो कहती थी

वक़्त के साथ बदल ना जाना

आज खुद बदल गयी

हमारा बुरा वक्त देखकर

Kabhi Jo Kehti Thi

Waqt Ke Sath Badal Naa Jana

Aaj Khud Badal Gayi

Humara Bura Waqt Dekh Kar

 

13.Waqt Shayari

वक़्त आने दो तुझे बताएंगे

आज अकड़ कर निकलते हो सामने से

वक़्त आने पर तुझे पैरों में बिठाएंगे

Waqt Aane Do Tujh Batayenge

Aaj Akad Kar Nikalte Ho Samne Se

Waqt Aane Par Tujhe Peron Mein Bithaye Ge

 

14.Waqt Shayari

जो मुसीबत के वक़्त में साथ दे

उसको कभी खोना मत

जो बुरे वक्त में आपको छोड़ जाए

उसके लिए कभी रोना मत

Jo Mushibat Ke Waqt Mein Sath De

Usko Kabhi Khona Mat

Jo Bure Waqt Mein Aapko Chhod Jaye

Uske Liye Kabhi Rona Mat

Waqt Shayari in hindi, Waqt Shayari Image, वक़्त पर शायरी, waqt

15.Waqt Shayari

तू चाहती रहे मुझे हर हाल में

दिल चाहता है हर वक़्त तू पास रहे

चाहे कितनी भी दूरियां बढ़ जाए

फिर भी तू दिल से मेरे साथ रहे

Tu Chahti Rahe Mujhe Har Haal Me

Dil Chahta Hai Har Waqt Tu Paas Rahe

Chahe Kitni Bhi Duriyan Badh Jaye

Fir Bhi Tu Dil Se Mere Saath Rahe

 

16.Waqt Shayari

पूरा वक़्त पैसा कमाने में लगा दिया

जब सोचा उस पैसे को खर्च करने का

तो खर्च करने का ज़िन्दगी ने वक़्त ना दिया

Poora Waqt Paisa Kamane Me Lagaa Diya

Jab Socha Us Paise Ko Kharach Karne Ka

To Kharach Karne Ka Zindagi Ne Waqt Na Diya

 

17.Waqt Shayari

कभी रोके से वक़्त रुकता नहीं

जो बिछड़ जाए फिर कभी मिलता नहीं

Kabhi Roke Se Waqt Rukta Nahi

Jo Bichhad Jaye Fir Kabhi Milta Nahi

 

Badalta Waqt Shayari 

 

18.Waqt Shayari

हम करते रहे तेरा इंतेज़ार बहुत वक़्त तक

पर तु किसी की बाहों में चैन से सोता रहा

Hum Karte Rahe Tera Intezaar Bahut Waqt Tak

Par Tu Kisi Ki Baahon Mein Chain Se Sota Raha

 

19.Waqt Shayari

इतना अकड़ में ना रहा करो जनाब

वक़्त बदला तो कोई साथ ना देगा

सबकी इज्जत किया करो साहब

वक़्त पड़ने पर आपके लिए जान भी देगा

Itna Akad Mein Naa Raha Karo Janaab

Waqt Badla Toh Koi Sath Naa Dega

Sabki Izzat Kiya Karo Sahab

Waqt Padne Par Aapke Liye Jaan Bhi Dega

 

Waqt Shayari in hindi, Waqt Shayari Image, वक़्त पर शायरी, waqt

20.Waqt Shayari

सुबह से शाम तक का वक़्त गुज़र गया

हमें पता ही ना चल पाया

कोई ज़िन्दगी को उजाड़ कर निकल गया

और में अभी तक सम्भल ना पाया

Subah Se Sham Tak Ka Waqt Guzar Gaya

Humein Pata Hi Naa Chal Paya

Koi Zindagi Ko Ujjad Kar Nikal Gaya

Aur Main Abhi Tak Sambha Hi Naa Paya

 

21.Waqt Shayari

उनके साथ हर वक़्त बिताया था

हमने उसको बहुत चाहा था

आखिर तोड़ कर बिखेर दिया उसने

जिसके हाथ में हमने दिल थमाया था

Unke Sath Har Waqt Bitaya Tha

Humne Usko Bahut Chaha Tha

Aakhir Todd Kar Bikher Diya Usne

Jiske Haath Mein Humne Dil Thamaya Tha

 

22.Waqt Shayari

वक़्त रहते किसी की इज्ज़त करें

उसके जाने के बाद पछताने से क्या होगा

बनाना है तो अभी से बना दीजिये महल

बाद में ताजमहल किसके लिए होगा

Waqt Rehte Kisi Ki Ijjat Kare

Uske Jane Ke Baad Pachhtane Se Kya Hoga

Bnana Hai To Abhi Se Bana Dijiye Mehal

Baad Mein Taj Mehal Kiske Liye Hoga

 

23.Waqt Shayari

वक़्त के साथ अपनों को बदलते देखा है

मैने दोस्त को दुश्मन बनते देखा है

Waqt Ke Sath Apno Ko Badalte Dekha Hai

Maine Dost Ko Dushman Bante Dekha Hai

 

24.Waqt Shayari

खुशियां थी उस वक़्त

जब तू साथ होती थी

कितना हसीन था वो वक़्त

जब तू मेरे लिए रोती थी

Khushiyan Thi Us Waqt

Jab Tu Sath Hoti Thi

Kitna Haseen Tha Wo Waqt

Jab Tu Mere Liye Roti Thi

 

Best Waqt Shayari

 

25.Waqt Shayari

ज़िन्दगी में एक ऐसा वक़्त लाना है

हम उसे अपना बना ले और कोई रोक ना पाए

जिसका यह दिल दीवाना है

Zindagi Mein Ek Aisa Waqt Laana Hai

Hum Usey Apna Banaa Le Aur Koi Rok Naa Paye

Jiska Yeh Dil Diwana Hai

 

Waqt Shayari in hindi, Waqt Shayari Image, वक़्त पर शायरी, waqt

26.Waqt Shayari

वक़्त के साथ बदलना सीखो

वरना वक़्त तुम्हारा वक़्त बदल कर रख देगा

Waqt Ke Sath Badalna Seekho

Warna Waqt Tumhara Waqt Badal Kar Rakh Dega

 

27.Waqt Shayari

उसका हर गम हँस कर सहा जाता है

ना जाने दिल हर वक़्त उसे क्यों चाहता है

Uska Jar Gam Hass Kar Sahaa Jata Hai

Naa Jane Dil Har Waqt Usey Kyun Chahta Hai

 

28.Waqt Shayari

वक़्त हालात देख कर

कभी रोना नहीं चाहिए

यदि समय अच्छा नहीं रहा

तो बुरा भी नही रहेगा

Waqt Halat Dekh Kar

Kabhi Rona Nhi Chahiye

Yadi Samay Achha Nahi Raha

To Bura Bhi Nahi Rahega

 

This is box title

खुदा से लड़ कर तुझे छीन लाएंगे

तुझे अपनी किस्मत में लिखाएँगे

आज बुरा वक़्त है उसे उड़ने दो

वक़्त आने पर उसे अपना बनाएंगे

Khuda Se Ladd Kar Tujhe Chheen Layenge

Tujhe Apni Kismat Mein Likhayenge

Aaj Bura Waqt Hai Usey Udne Do

Waqt Aane Par Usey Apna Bnayenge

 

30.Waqt Shayari

कोशिश बहुत की कामयाब होने की

मेहनत से कभी में हारा नहीं था

फिर जाकर अच्छा वक्त आया है

बुरे वक़्त में कोई सहारा नहीं था

Koshish Bahut Ki Kamyab Hone Ki

Mehnat Se Kabhi Mein Hara Nahi Tha

Fir Jakar Achha Waqt Aaya Hai

Bure Waqt Mein Koi Sahara Nahi Tha

 

31.Waqt Shayari

अच्छा वक्त देख कभी अकड़ ना करो

यह वक़्त बदलकर आपका मज़ाक बना देगा

कभी अच्छे वक़्त में हद से ज्यादा ना उड़ो

जिस वक्त ने उड़ाया वो ही गिरा देगा

Achha Waqt Dekh Kabhi Akkad Naa Karo

Yeh Waqt Badal Kar Apaka Mazak Banaa Dega

Kabhi Achhe Waqt Mein Hadd Se Jayada Naa Isso

Jis Waqt Ne Udaya Wo Hi Gira Dega

32.वक़्त पर शायरी

ज़रूरत से ज्यादा वक्त और इज़्ज़त देने से

लोग अक्सर बदल जाया करते हैं

Zarurat se jyada waqt aur izzat dene se

Logg aksar badal jaya karte hai

 

33.वक़्त पर शायरी

वक़्त भी रोया है एक दिन मेरे साथ बैठ कर

कहता है, बन्दा तू ठीक है मै ही खराब चल रहा हूँ

Waqt bhi roya hai ek din mere saath beth kar

Kehta hai, banda tu thik hai main hi kharab chal raha hu

 

34.वक़्त पर शायरी

वक़्त चलता रहा ज़िन्दगी सिमटती गयी

दोस्त बढ़ते गए दोस्ती घटती गयी

Waqt chalta raha zindagi simateti gayi

Dost badhte gaye dosti ghatati gayi

 

35.वक़्त पर शायरी

यह वक़्त मुनासिब नहीं इस लिए मोन हूँ मै

वक़्त आने पर बता दूंगा क्या हूँ कौन हूँ मै

Yeh waqt munasib nahi is liye mon hu main

Waqt aane par bataa dunga kya hu kaun hu main

 

36.वक़्त पर शायरी

मेरा वक़्त बदला है हालात नहीं

तेरी किस्मत बदली है औकात नहीं

Mera waqt badla hai halaat nahi

Teri kismat badli jai aukat nahi

 

37.वक़्त पर शायरी

एक वक्त था जब उनकी तस्वीर देख लगता था

के यार यह छोड़ कर क्यों चले गए

और आज एक वक्त है जब लगता है

के अच्छा हुआ चले गए

Ek waqt tha jab unki tasveer dekh lagta tha

Ke yaar yeh chhod kar kyun chale gaye

Aur aaj ek waqt hai jab lagta hai

Ke achha hua chale gaye

 

38.वक़्त पर शायरी

वक़्त सही रहा तो उसे उसकी औकात दिखा दूंगा

जो जिस्म से खेलने को मोहब्बत कहते हैं

उन्हें इश्क़ क्या होता बता दूंगा

Waqt sahi raha toh usey uski aukaat dikha dunga

Jo jism se khelne ko mohabbat kehte hai

Unhe ishq kya hota hai bataa dunga

 

39.वक़्त पर शायरी

मुझे यकीन था के ना मेरे हलात कभी बदलेंगे ना वो

वक़्त का तगाज़ा देखो दोनों ही बदल गए

Mujhe yakin tha ke naa mere halaat kabhi badlenge naa woh

Waqt ka tagaza dekho dono hi badal gaye

 

Read More:-

Good Night Shayari In Hindi | 50+ Best Hindi shayari

50+ Best Good Morning Shayari In Hindi For Love

30 Best Romantic Shayari In Hindi 2020

Leave a Comment