110+ Best Wafa Shayari in hindi | वफ़ा शायरी (2022)

Wafa shayari in hindi

Wafa shayari in hindi: दोस्तों वफ़ा करने वालों को अक्सर ही बेवफाई मिलती है और ज्यादातर इश्क़ में वफ़ा करने वाले हमेशा धोखा ही पाते हैं। कोई खुशकिस्मत ही होता है जिसको वफ़ा के बदले कोई वफादार चाहने वाला मिलता है।

बेवफ़ा लोग कभी यह नहीं सोचते कि आप इश्क़ में वफ़ा निभाते हुए उनके साथ चल रहे हैं यह बस आपकी वफ़ा का मज़ाक बना कर आपको तोड़ कर चले जाते हैं। ऐसे ही वफ़ा करने वाले लोगों कर लिए आज की यह वफ़ा शायरी है।

आज के ब्लॉग पोस्ट में हम आपके साथ wafa shayari in Hindi collection शेयर कर रहे हैं। जिसमें वफ़ा शायरी, वफ़ा शायरी 2 line, वफ़ा पर शायरी, वफादार शायरी, bewafa se wafa shayari और dard wafa shayari आपके सामने पेश की जाएगी।

 

Read Also👇

50+ बेस्ट सुपर हिट लव शायरी | Super Hit Love Shayari

 

Wafa Shayari In Hindi: वफ़ा शायरी

 

तुम रहो मेरे साथ

हम भी वफ़ा निभाते रहेंगे

जब तक है दिल में धड़कन

हम तुम्हें चाहते रहेंगे

Wafa shayari in hindi

वफ़ा निभाने का वादा किया था और निभा रहे हैं

वो हो गयी किसी और कि फिर भी उसे चाह रहे हैं

 

हम चाहते हैं कि तुम

हमें अपनी ज़िंदगी बनाओ

जैसे हम निभा रहे हैं वफ़ा

वैसे तुम भी निभाओ

 

मैं तुम्हें पाना चाहता हूँ

तेरे साथ ज़िंदगी बिताना चाहता हूं

कहते हैं आजकल वफ़ा नहीं रही

मैं वफ़ा कर दिखाना चाहता हूँ

 

मुश्किल है वफ़ा को ढूंढना इस ज़माने में

जिस को मिल गयी वफ़ा

कुछ तो बात होगी उस दीवाने में

 

वफ़ा शायरी इन हिंदी

 

वफ़ा करते करते ही लोग बदल जाते हैं

पलक झपकते ही ज़िंदगी से चले जाते हैं

Wafa shayari in hindi

तेरे लिए दिल से प्यार कभी ना मिटाऊंगा

वफ़ा करता रहूंगा कभी छोड़ कर ना जाऊंगा

 

खुश हूं इस बात से की

भगवान ने मुझे तुमसे मिला दिया

वर्ना कहाँ इतनी आसानी से

कोई वफ़ा निभाने वाला मिलता है

 

वाह मौसम तेरी वफा पे

आज दिल खुश हो गया

याद-ए-यार मुझे आयी 

और बरस तू पड़ा

 

क्यों छोड़ जाते हैं लोग

क्यों दिल तोड़ जाते हैं लोग

जब वफ़ा निभा नहीं सकते

तो क्यों ज़िंदगी में आते हैं लोग

 

wafa shayari urdu

 

मैं बिछड़ कर भी तुमसे वफ़ा निभाता हूँ

रोज़ रात तुझे याद करके सोने जाता हूँ

Wafa shayari in hindi

चलना चाहता हूं मैं तेरे साथ सफर-ए-ज़िंदगी पर

वफ़ा निभाउंगा मुझे तुम साथ अपने ले चलो

 

बेवफा वो है मगर मैं वफ़ा करता रहा हूँ

उसके दिए हर गम को दिल पर सहता रहा हूँ

 

बेवफा से भी वफ़ा निभा रहा हूँ

पागल हूँ जो तुम्हें आज भी चाह रहा हूँ

 

bewafa se wafa shayari

 

जिससे हम निभाते रहे वफ़ा

बात बात पर हो जाती थी खफ़ा

जब देखा किसी और की बाहों में

तो पता चला वो थी एक बेवफा 

Wafa shayari in hindi

वो बेरहम सा दिलों का कातिल है

जब दिल भरेगा तेरा दिल तोड़ देगा

तुम करते रहो चाहे कितनी भी वफ़ा

वो बेवफा एक दिन तुम्हें छोड़ देगा

 

यहाँ अपने ही धोखा देकर छोड चले जाते हैं

और हम गैरों से वफ़ा की उम्मीद लगाए बैठे थे।।

 

मेरी वफ़ा कुछ काम नहीं आ रही है

वो बेवफा मुझे भुलाते ही जा रही है

 

wafa shayari 2 line

 

वफ़ा तुम से करेंगे, दुख सहेंगे, नाज़ उठाएँगे

जिसे आता है दिल देना उसे हर काम आता है

Wafa shayari in hindi
wafa shayari 2 line

मुझसे मेरी वफ़ा का सबूत मांग रहा है

खुद बेवफ़ा हो के मुझसे वफ़ा मांग रहा है.

 

ना अदा से होंगी ना  वफा से होंगी

अब मोहब्बत जिससे भी होगी

एग्जाम  के बाद  होंगी .

 

तेरे होते हुए भी तन्हाई मिली है,

वफ़ा करके भी देखो बुराई मिली है,

 

क्यूँ किसी से वफ़ा करे कोई

दिल न माने तो क्या करे कोई

 

love wafa shayari

 

आंखें बंद कर मेरे साथ चलती जाओ

तुम इश्क़ में वफ़ा करती जाओ

Wafa shayari in hindi

प्यार का रिश्ता वफ़ा और ऐतबार से चलता है

मेरा दिल हर वक़्त, तुम से बिछड़ने से डरता है 

 

कुछ होते हैं बेवफा कुछ वफ़ा करने वाले होते है

दूसरों को खुश देख बहुत लोग जलने वाले होते हैं

 

मेरे दिल से तुम मोहब्बत के नाम पर खेलती रही

मुझसे वफ़ा मांग खुद बेवफ़ाई तुम करती रही

 

mohabbat wafa shayari

 

किस्मत वालों की मिलती है मोहब्बत में वफ़ा

यहाँ बेवफाई करने वाले भरे बैठे हैं।।

Wafa shayari in hindi

जो हमें मनाया करते थे वो आज खफ़ा हो गए

ना जाने क्या हुआ उनको की बेवफा हो गए

 

वो करते हैं बेवफ़ाई और कहते हैं मुस्कराओ

मोहब्बत याद रखो और बेवफ़ाई को भूल जाओ

 

मोहब्बत में मुझसे वफ़ा की उम्मीद लगाए बैठा है

खुद बेवफा होकर मुझे वफादार समझ बैठा है।।

 

wafa shayari images

 

वफ़ा निभाओ तुम हमसे मेरी जान 

दूर ना जाओ तुम हमें करके बदनाम

Wafa shayari in hindi

वफादार होने के सुबूत हम उन्हें देते रहे

वो बेवफा थे जिन्हें हम वफादार कहते रहे

 

होता नहीं यकीन इस बात पर

की वो बेवफाई कर गया

वफादार था जो इतना

हमें छोड़ किसी और पे मर गया

 

खफा हो जाते तो

मना लेते किसी तरह

वो तो बेवफा ही हो गए

 

wafadar shayari

 

इस ज़िंदगी ने साथ किसी का नहीं दिया

किस बेवफ़ा से तुझ को तमन्ना वफ़ा की है

Wafa shayari in hindi

आशिक़ तब बेजान हो जाता है

जब वफादार कोई बेवफाई कर जाता है

 

वफ़ा के किस्से कहानियों

में ही अच्छे लगते हैं

असलियत में तो यहां वफ़ा

करके धोखे ही मिलते हैं

 

निकाह कर उसको मैं अपनी बना लेता

वफ़ा के राह पर उसको भी चला लेता

बेवफ़ा ना होता अगर वो

तो उसको मैं अपना लेता 

 

वफादार शायरी

 

कैसे बताऊं लोगों को

उसकी बेवफाई के किस्से

लोगों में कभी मैंने ही

उसको वफादार बताया था

Wafa shayari in hindi

वफ़ा के साथ जुड़े हमारे बहुत किस्से हैं

वफ़ा करते हुए गम आये हमारे हिस्से हैं।।

 

कब तक एक बेवफा से

मैं वफ़ा निभाता रहूंगा

कब तक सहता रहूंगा और

दिल को समझाता रहूंगा

 

आप मोहब्बत के जिन रास्तों पर वफ़ा ढूंढ रहे हैं

उनपे पहले ही हम बेवफाई को देख चुके हैं।।

 

दर्द वफ़ा शायरी

 

वफ़ा के बदले मिलता है दर्द

बेवफाई फिर सहन नहीं होती

जब जाते हैं चाहने वाले छोड़

फिर आंखें दिन रात हैं रोती 

Wafa shayari in hindi

वफ़ा निभाओगे तो दर्द ही पाओगे

जो बेवफ़ा हो जाओगे तो

लोगों की तरह जीना सीख जाओगे

 

कहते हैं हम कर रहे हैं वफ़ा

और दर्द दे जाते हैं

यह दिमाग वाले अक्सर दिल

वालों के साथ खेल जाते हैं

 

वफाये मांगते फिरते है फकीरों की तरह |

अजीब लोग है कहते है मुहब्बत की है

 

वफा पर शायरी

 

मैं नादान था जो

वफ़ा को तलाश करता रहा ग़ालिब,

ये भी ना सोचा की अपनी सांस भी

एक दिन बेवफा बन जाएगी.

Wafa shayari in hindi

मुझ से क्या हो सका वफ़ा के सिवा

मुझ को मिलता भी क्या सज़ा के सिवा

  • हफ़ीज़ जालंधरी

 

मैं सोचती हूँ कि इक जिस्म के पुजारी को

मेरी वफ़ा ने वफ़ा का सुहाग क्यूँ समझा

  • नरेश कुमार शाद

 

दुनिया के सितम याद न

अपनी ही वफ़ा याद

अब मुझको नहीं कुछ भी

मोहब्बत के सिवा याद

  • जिगर मुरादाबादी

 

वफ़ा शायरी इमेज

 

तरस खाओ मुझ पर

बस इतना बताओ हमदम,

तुम्हें वफ़ा नहीं आती

या तुमसे की नहीं जाती।।

Wafa shayari in hindi

वो दिल क्या जो मिलने की दुआ न करे,

तुम्हें भुलकर जिऊ यह खुदा न करे,

रहे तेरी दोस्ती मेरी जिन्दगानी बनकर,

यह बात और है जिन्दगी वफा न करे

 

बूढ़ों के साथ लोग कहाँ तक वफ़ा करें

बूढ़ों को भी जो मौत न आए तो

क्या करें

  • अकबर इलाहाबादी

 

वफ़ा करेंगे निबाहेंगे बात मानेंगे

तुम्हें भी याद है कुछ ये कलाम

किस का था

  • दाग़ देहलवी

 

वफ़ा शायरी इन हिंदी

 

वादा-ए-वफ़ा करो तो

फिर खुद को फ़ना करो,

वरना खुदा के लिए

किसी की ज़िंदगी ना तबाह करो.

Wafa shayari in hindi

अंजाम-ए-वफ़ा ये है

जिस ने भी मोहब्बत की

मरने की दुआ माँगी 

जीने की सज़ा पाई

 

वफ़ा का नाम मत लो यारों.

वफ़ा दिल को दुखाती है,

वफ़ा का नाम लेने से हमें 

एक बेवफा की याद आती है

 

मेरे इश्क़ पर इल्ज़ाम ना लगाओ

जिसको लगता हूँ बेवफा वो चले आओ

मैं आखरी दम तक वफ़ा करूँगा

तुम जो रिश्ता बना कर निभाओ

 

वफ़ा करके हमने दर्द ही पाया है

हमें वफ़ा करने का फायदा ना आया है

मिली है हमको ऐसी बेवफाई के

दिल को मुश्किल से समझाया है

 

दोस्तों यदि आपको Wafa Shayari In Hindi ब्लॉग पोस्ट में पेश की गई वफ़ा शायरी आपको पसंद आई तो हमें कमेंट करके जरूर बताएं और इस वफ़ा पर शायरी संग्रह को अपने जानने वालों कर साथ भी जरूर शेयर करें धन्यवाद। वफ़ा का मतलब जानना चाहते हैं तो आप यहाँ 👉Wafa Shayari Rekhta  click करके जान सकते हैं।

 

Read Also: 50+ New Love Sayari (शायरी) – लव शायरी इन हिंदी