50+ Pagal Shayari In Hindi | पागल शायरी

पागल शायरी: दोस्तों आज हम आपके लिए लेकर आये हैं पागल लफ्ज़ पर हिंदी शायरी संग्रह, किसी के इश्क़ में पागल होते आपने बहुत लोग देखे होंगे ऐसा ज्यादातर उन लोगों के साथ होता है जो इश्क़ में पूरी तरह डूब जाते हैं और किसी एक को अपनी ज़िंदगी मान लेते हैं।

यह पागल लफ्ज़ अपने लिए अपनी प्रेमिका व प्रेमी से सुनना भी अच्छा लगता है जब हमारा प्रेमी या प्रेमिका इस लफ्ज़ के साथ हमें प्यार से बुलाता है तो हमारे दिल में यह सुनकर गुस्सा नहीं आता क्योंकि इस पागल लफ्ज़ में भी प्यार भरा होता है और इसी प्यार में जब धोखा ओर बेवफाई आ जाती है तो हमें यह इश्क़ बर्बाद ओर पागल कर देता है।

आप इसके अलावा हमारी झुमका शायरी, पायल शायरी, चूड़ियों पर शायरी यह भी देख सकते हो।

 

Pagal Shayari In Hindi : पागल शायरी

 

पागल सी वो लड़की मुझे कितना चाहती है

खुद का ख्याल नहीं रखती और मुझे समझाती है

 

Pagal Si Woh Ladki Mujhe Kitna Chahati Hai

Khud Ka Khayal Nahi Rakhti Aur Mujhe Samajhati Hai

 

 

पागल सा वो लड़का कितना प्यारा है

जो मेरी ज़िंदगी का बना सहारा है

 

Pagal Sa Woh Ladka Kitna Pyara Hai

Jo Meri Zindagi Ka Bana Sahara Hai

 

पागल शायरी दो लाइन

प्यार में पागल शायरी फ़ोटो
प्यार में पागल शायरी फ़ोटो

 

मेरा पागल दीवाना मुझे बहुत चाहता है

हर वक़्त मुझे देखते रहना चाहता है

 

Mera Pagal Deewana Mujhe Bahut Chahta Hai

Har Waqt Mujhe Dekhte Rehna Chahta Hai

 

 

जिसने मुझे खुलकर हँसना सिखाया था

वो पागल जाते हुए मुस्कान ले गया

 

Jisne Mujhe Khulkar Hasna Sikhaya Tha

Woh Pagal Jaate Huye Muskan Le Gaya

 

पागल शायरी इन हिंदी

 

मै तेरा पागल तुम मेरी पगली बन जाओ

मुझे बाहों में भर कर दुनिया को भूल जाओ

 

Main Tera Pagal Tum Meri Pagli Ban Jao

Mujhe Baahon Me Bhar Kar Duniya Ko Bhul Jao

 

 

सच्चा प्यार करने वालों के लिए धोखा इनाम है

जो करता है वफ़ा वही पागल और बदनाम है

 

Sacha Pyar Karne Walo Ke Liye Dhokha Inaam Hai

Jo Karta Hai Wafa Wahi Pagal Aur Badnam Hai

 

 

जो छोड़ गई उसका आज भी इंतज़ार करता हूँ

मैं पागल एक बेवफा से प्यार करता हूँ

 

Jo Chhod Gayi Uska Aaj Bhi Intezaar Karta Hu

Main Pagal Ek Bewafa Se Pyar Karta Hu

 

पागलपन पर शायरी

मोहब्बत में पागल शायरी
मोहब्बत में पागल शायरी

 

मेरी मोहब्बत को उसने पागलपन कहकर ठुकरा दिया

मैं दीवाना था उसके लिए उसने मुझे पागल बता दिया

 

Meri Mohabbat Ko Usne Pagalpan Kehkar Thukra Diya

Main Deewana Tha Uske Liye Usne Mujhe Pagal Bata Diya

 

 

तेरे इश्क़ ने हमें पागल बना दिया

और तूने हमको ही बेवफा बता दिया

 

Tere Ishq Ne Hume Pagal Bana Diya

Aur Tune Humko Hi Bewafa Bata Diya

 

 

तुझे देख कर मैं पागल होने लगा हूँ

तेरे इश्क़ में खुद को खोने लगा हूँ

 

Tujhe Dekh Kar Main Pagal Hone Laga Hu

Tere Ishq Mein Khud Ko Khone Laga Hu

 

 

Also Read:

Bewafa Shayari Two Lines

Two Line Sad Shayari 2021

मोहब्बत में पागल शायरी

 

किसी की चाहत में इतना भी ना खो जाओ

के वो छोड़ कर जाए तो पागल हो जाओ

 

Kisi ki chahat mein itna bhi na kho jao

Ke woh chhod kar jaye toh pagal ho jao

 

पागल शायरी हिंदी में

प्रेम में पागल शायरी
प्रेम में पागल शायरी

तेरी चाहत ने एक जादू मुझपर चलाया है

तेरी यादों  ने इस दिल को पागल बनाया है

 

Teri chahat ne ek jadu mujhpar chalaya hai

Teri yaadon ne is dil ko pagal banaya hai

 

 

तुम्हारे जाने के बाद पागल सा होने लगा हूँ

रातों में तेरी तस्वीरों को रख कर सामने सोने लगा हूँ

 

Tumhare jane ke baad pagal sa hone laga hu

Raato me teri tasveeron ko rakh kar samne sone laga hu

 

पागल स्टेटस इन हिंदी

 

मुझे पागल पागल बोल कर प्यार जताती थी

बेवफाई कर वो मुझे पागल बनाती थी

 

Mujhe pagal pagal bol kar pyar jatati thi

Bewafai kar woh mujhe pagal banati thi

 

 

वो अक्सर मुझे पागल कह कर बुलाया करती है

यह सुनकर भी मेरे लबों पर मुस्कान आया करती है

 

Woh aksar mujhe pagal keh kar bulaya karti hai

Yeh sunkar bhi mere labon par muskan aaya karti hai

 

 

हमारी आदत है देखकर मुस्कुरा देने की

कहीं इश्क़ समझ कर पागल मत हो जाना

 

Humari aadat hai dekhkar muskura dene ki

Kahi ishq samjh kar pagal mat ho jana

 

पागलपन पर शायरी
पागलपन पर शायरी

 

कभी भी लौट कर चले आना

दिल हमेशां तुम्हें प्यार करेगा

तुम चाहे चाहो किसी और को

यह पागल तेरा इंतज़ार करेगा

 

Kabhi bhi laut kar chale aana

Dil humesha tumhe pyar karega

Tum chahe chaho kisi aur ko

Yeh pagal tera intezaar karega

 

 

बहुत हँस हँस कर दिल जिससे लगाया था

आखिर में उसने ही पागल बनाया था

 

Bahut hass hass kar dil jisse lagaya tha

Aakhir mein usne hi pagal banaya tha

 

 

खुद को उसकी बेवफाई से ना टूटने दो

इश्क़ किया तो धोखा भी होना है

अभी तो उसके लिए रातों को रोना है

अभी तो उसके इंतज़ार में और पागल होना है

 

Khud ko uski bewafai se na tootne do

Ishq kiya toh dhokha bhi hona hai

Abhi toh uske liye raato ko rona hai

Abhi toh uske intzaar me or pagal hona hai

 

 

मैं उसके साथ इश्क़ का खेल ही खेलता रह गया

उस पगली को ब्याह कर कोई और ले गया

 

Main uske saath ishq ka khel hi khelta reh gaya

Us pagli ko byaah kar koi or le gaya

 

 

प्यार में पागल शायरी

शराब सहारा ना बनती तो पागल हो जाता

उसके बाद मैं इस भीड़ में कहीं खो जाता

 

Sharab sahara na banti toh pagal ho jata

Uske baad main is bheed me kahi kho jata

 

 

प्रेम में पागल शायरी

पागल शायरी
पागल शायरी

लेकर शराब का सहारा कलम को उठा लिया

शायरी लिखकर खुद को पागल बता दिया

 

Lekar sharab ka sahara kalam ko utha liya

Shayari likh kar khud ko pagal bata diya

 

 

वो पागल थी जो मेरा दिल तोड़ गयी

किसी पैसे वाले के लिए सच्चे प्यार को छोड़ गयी

 

Woh thi jo mera dil todd gayi

Kisi paise wale ke liye sache pyar ko chhod gayi

 

 

होंठों पे तो हमेशा मुस्कान होती है

बस यह दिल और आँखें रात को रोती हैं

 

Honto pe toh humesha muskan hoti hai

Bas yeh dil aur aankhe raat ko roti hai

 

“आशिक़ पागल हो जाते हैं प्यार में शायरी”

 

दिल नहीं था शादी करने का तो सपने क्यों दिखाए

अरे तुम मेरी ज़िंदगी में मुझे पागल करने क्यों आये

 

Dil nahi tha shadi karne ka toh sapne kyun dikhaye

Aray tum meri zindagi me mujhe pagal karne kyun aaye

 

 

कोई पूछे तुमसे अगर मेरे बारे में

कह देना पागल था छोड़ गया

खुद को बेवफा मत बताना

कहना बेवफाई करके दिल तोड़ गया

 

Koi puchhe tumse agar mere bare me

Keh dena pagal tha chhod gaya

Khud ko bewafa mat batana

Kehna bewafai karke dil todd gaya

 

 

हम तो पागल हैं शायरी

पागल नहीं होना शायरी
पागल नहीं होना शायरी

मैं आजकल खुद में खोया रहता हूँ

किसी की ना सुनता और ना कुछ कहता हूँ

लोग तो मुझे पागल कहते ही हैं

मगर मैं भी खुद को पागल कहता हूँ

 

Main aajkal khud me khoya rehta hu

Kisi ki na sunta or na kuch kehta hu

Logg toh mujhe pagal kehte hi hai

Magar main bhi khud ko pagal kehta hu

 

 

तुम उसकी आँखों में मत देखना दोस्त

वो आँखों के रास्ते दिल चुरा लेती है

आदत है उसकी दिलों के साथ खेलना

बेवफाई कर पागल बना देती है

 

Tum uski aankhon me mat dekhna dost

Woh aankhon ke raste dil chura leti hai

Aadat hai uski dilon ke saath khelna

Bewafai kar pagal bana deti hai

 

पागल शायरी इन हिंदी

 

मैं छोड़ कर तुम्हें चला जाऊंगा

तुम मुझे ढूंढती रह जाओगी

पागल बनाती फिरती हो मुझे आज

मेरी ही यादों में पागल हो जाओगी

 

Main chhod kar tumhe chala jaunga

Tum mujhe dhundhti reh jaogi

Pagal banati firti ho mujhe aaj

Meri hi yaadon mein pagal ho jaogi

 

 

बेवफाई ने तेरी बहुतों को रुलाया है

ना जाने कितनों का दिल तूने जलाया है

आकर देख तेरी यादों ने मुझे भी पागल बनाया है

 

Bewafai ne teri bahuton ko rulaya hai

Na jane kitno ka dil tune jalaya hai

Aakar dekh teri yaadon ne mujhe bhi pagal banaya hai

 

पागल शायरी rekhta

मेरे दिल में तुम रहने लगी हो

नाम के सिवाए कोई नहीं बुलाता था

और तुम मुझे पागल दीवाना कहने लगी हो

 

Mere dil mein tum rehne lagi ho

Naam ke sivaye koi nahi bulata tha

Or tum mujhe pagal deewana kehne lage ho

 

 

मेरे सामने जब उसका हुस्न आया था

उसकी यादों ने तब पूरी रात जगाया था

सुबह हमने उसे अपने दिल का हाल बताया था

फिर उसके इश्क़ ने हमें पागल बनाया था

 

Mere samne jab uska husn aaya tha

Uski yaadon ne tab poori raat jagaya tha

Subah humne usey apne dil ka haal bataya tha

Fir uske ishq ne hume pagal banaya tha

 

पागल शायरी स्टेटस

 

काश मैं आसमान और तुम बादल होती

काश तुम भी मेरे इश्क़ में पागल होती

 

Kaash main aasman or tum badal hoti

Kaash tum bhi mere ishq mein pagal hoti

 

उम्मीद करते हैं कि आपने इस पागल लफ्ज़ पर पागल शायरी को पूरा पढा होगा और आपको यह शायरी पसंद आई होगी आप इसके अलावा हमारी ओर भी शायरी पढ़ सकते हो हमारे ब्लॉग Loyal Shayar के होम पेज पर जाकर।

1 thought on “50+ Pagal Shayari In Hindi | पागल शायरी”

Leave a Comment