सर्दी पर शायरी | 20+ Romantic Sardi Shayari In Hindi | Best Winter Shayari

Sardi Shayari (Winter Shayari) : दोस्तों ठंड का मौसम आ गया है लम्बा समय गर्मी बर्दाश्त करने के बाद जब यह ठंड का सुहाना मौसम आता है तो दिल में एक नई सी लहर पैदा हो जाती है भारत में इस मौसम में शादियों का दौर भी बढ़ जाता है कहा जाए तो यह वो मौसम है जब बहुत अधिक गिनती में दो दिलों का मेल होता है।

 

आज हम इस सर्दी के मौसम पर शायरी पेश कर रहे हैं जिसे आप आपने चाहने वालों से शेयर कर सकते हो।।।

 

सर्दी पर शायरी | 20+ Romantic Winter Shayari In Hindi | Sardi Shayari

 

1. Sardi Shayari

Sardi Shayari Image

अपना समझो या बेगाना

अपना समझो या बेगाना

इस लिए यह बता रहा हूँ

ठंड आ गयी है अब रोज़ मत नहाना

Apna samjho ya begana

Apna samjho ya begana

Is liye yeh bataa raha hu

Thand aa gayi hai ab roz mat nahana

 

2.Thand Shayari

बदन ठंडा सा पड़ रहा है सांस थम सी गयी है

इस सर्दी के मौसम में शायरी जम सी गयी है

Badan thanda sa padd raha hai saansein tham si gayi hai

Is sardi ke mausam mein shayari jam si gayi hai

 

3. Sardi Shayari

सर्दी पड़ने लगी है महफ़िल जमने लगी है

दोसत इकठा हुए हैं अब बोतल खुलने लगी है

Sardi padne lagi hai mehfil jamne lagi hai

Dost ikatha huye hai ab botal khulne lagi hai

 

4. Winter Season Shayari

जब छोड़ कर गयी वो तब सर्दी की रातें थी

मुझे आज भी रज़ाई में उसकी कमी खलती है

Jab chhod kar gayi woh tab sardi ki raate thi

Mujhe aaj bhi rajayi mein uski kami khalti hai

 

Winter season Shayari In Hindi

 

5.Sardi Shayari

winter season shayari image

वो दिन आ गए जब लोग ठंड से कंपकपाने लगते है

इन सर्दियों में अक्सर दो दिल ज़्यादा करीब आने लगते हैं

Woh din aa gaye jab logg thand se kapkapane lagte hai

In sardiyon mein aksar do dil jyada kareeb aane lagte hai

 

6.Romantic Sardi Shayari

कर दो प्यार का इज़हार शर्माओ मत

सर्दी के मौसम में दूर रहकर तड़पाओ मत

Kar do pyar ka izhar sharmao mat

Sardi ke mausam mein door reh kar tadpao mat

 

7.Sardi Shayari

क्या कहा छोड़ कर जाना चाहती हो

जाओ तुम बिन भी हम जी लेंगे

इन सर्दियों में तू ना रही मेरे साथ तो

हम बोतल खोलेंगे और पी लेंगे

Kya kaha chhod kar jaana chahti ho

Jaao tum bina bhi jee lenge

In sardiyon mein tu naa rahi mere sath to

Hum botal kholenge aur pee lenge

 

8. Romantic Winter Season

यह सर्दी आपके आने से ही खत्म होगी

दारू और रज़ाई हर सर्दी को दूर नहीं करते

Yeh sardi aapke aane se hi khatam hogi

Daaru aur rajayi har sardi toh door nahi karte

 

ठंड पर शायरी Thand Par Shayari

 

9.Sardi Shayari

दिसंबर की रातों में सर्दी बढ़ने लगती है

अकेले सोते हुए तेरी यादें ज़हन में चलने लगती है

समझा लेते हैं दिल को बहुत बार लेकिन

इस ठंड में तुझे पाने की इच्छा जगने लगती है

December ki raaton mein sardi badhne lagti hai

Akele sote huye teri yaadein zahan mein chalne lagti hai

Samjha lete hai dil ko bahut baar lekin

Is thand mein tujhe paane ki ichha jagne lagti hai

 

10. Winter Season Shayari

सर्दी पर शायरी फ़ोटो

जैसे जैसे सर्दियां आने लगती है

हमें उसकी यादें सताने लगती है

सर्दी की रात थी जब छोड़ गई थी

वो बीती बातें तड़पाने लगती है

Jaise jaise sardiyan aane lagti hai

Humein uski yaadein satane lagti hai

Sardi ki raat thi jab chhod gayi thi

Woh beeti baatein tadpane lagti hai

 

11.Sardi Shayari

मैं तुझे हमेशा के लिए अपना बनाना चाहता हूँ

बहुत मिल लिया छुप छुप कर

अब अपनी दुल्हन बनाना चाहता हूँ

मैं इस सर्दियों में शादी कर तुझे घर लाना चाहता हूँ

Main tujhe humesha ke liye apna banana chahta hu

Bahut mill liya chhup chhup kar

Ab apni dulhan banane chahta hu

Main is sardiyon mein shadi kar tujhe ghar lana chahta hu

 

12.Sardi Shayari

बिस्तर से जल्दी उठा नहीं जाता है

जब भी यह सर्दी का मौसम आता है

रजाई और कम्बल दिल को लुभाता है

जब यह सर्दी का दौर आता है

Bistar se jaldi utha nahi jaata hai

Jab bhi yeh sardi ja mausam Aata hai

Rajayi aur kambal dil ko lubhata hai

Jab is sardi ka daur aata hai

 

Romantic Mausam Shayari

 

13. ठंड पर शायरी

जब भी सर्दी का मौसम आने लगता है

हमारे दिल को यह लुभाने लगता है

Jab bhi sardi ka mausam aane lagta hai

Humare dil ko yeh lubhane lagta hai

 

14.Sardi Shayari

जो भी मांगना चाहो मांग लो हमसे

सब तुम पर कुर्बान कर जाएंगे

बस एक मांगना ना हमसे रजाई

इस सर्दी के मौसम में यह ना कर पाएंगे

Jo bhi mangna chaaho maang lo humse

Sab tum par qurban kar jayenge

Bas ek mangna naa humse rajayi

Is sardi ke mausam me yeh naa kar payenge

 

15.Sardi Shayari

ठंडे मौसम में हमने मिलकर आग लगाई थी

जब तू मुझसे मिलने मेरे पास आई थी

ठंड में भी गर्मी का एहसास होने लगा था

जब तू कस कर आपने सीने से लगाई थी

Thande mausam mein humne milkar aag lagayi thi

Jab tu mujhse milne mere paas aayi thi

Thand mein bhi garmi ka ehsas hone laga tha

Jab tu kas kae apne seene se lagayi thi

 

16.सर्दी पर शायरी

ठंड से तड़पते जिस्म को तूने सहारा दिया था

जब सीने से लिपट तुमने प्यार का इज़हार किया था

सीने से लिपट तुमने आग लगा डाली थी

मर चुके इस जिस्म में चिंगारी जला डाली थी

Thand se tadap rahe jism ko tune sahara diya tha

Jab seene se lipat tumne pyar ka izhaar kiya tha

Seene se lipat tumne aag lagaa daali thi

Marr chuke is jism mein chingari jalaa dali thi

 

17. सर्दी पर शायरी

तेरे साथ जीना और इस ठंड के मौसम में

तेरे हाथ कि चाय पीना, बस यही दो ख्वाब है हमारे

Tere saath jeena aur is thand ke mausam mein

Tere haath ki chai peena, bas yahi do khawab hai humare

 

सर्दियों का मौसम कब आता है?

 

अक्टूबर महीने से सर्दियों की शुरुआत हो जाती है, और नवंबर के बाद दिसंबर आते आते सर्दी अपनी चरम सीमा पर पहुंच जाती है और यह लगभग मार्च तक रहती है इसके बाद धीरे धीरे ठंड कम होने लगती है।

 

Dosto Kaisi Lagi Aapko Yeh Romantic Sardi Shayari Comment Kar Ke Jarur Batayen…

 

Read More:

झुमके पर शायरी

Best Chai Shayari In Hindi

50+ Depression Shayari in Hindi

Leave a Comment