Best Aala Hazrat Shayari in hindi & urdu 2022

aala hazrat shayari status

We are presenting Aala Hazrat Shayari in front of you, you must read this poetry and also share it with your friends and relatives. Aala hazrat का पूरा नाम Ahmed Raza Khan Barelvi था।

Read More: 101+ Best Imam Hussain quotes ~ Shayari

Aala hazrat shayari

 

वो कमाल-ए-हुस्न-ए-हुज़ूर है

के गुमान-ए नक्स जहां नहीं

यही फूल खार से दूर है

यही शम्मा है के धुआं नहीं

 

Wo Kamaal-e-Husn-e-Huzoor hai ke Gumaan-e-Naqs Jahaan Nahi

Yahi Phool Khaar Say Door hai

yahi shamma hai ke dhuaan Nahi

 

आंखों का तारा नाम ए मोहम्मद

दिल का उजाला नाम ए मोहम्मद

पूछेगा मौला लाया है क्या क्या

मैं यह कहूंगा नाम-ए-मोहम्मद

 

Status Aala hazrat shayari

 

Aankhon Ka Taara Naam E Muhammad

Dil ka ujaala Naam E Muhammad

Puche ga Maula laya hein kya kya

Mai ye kahunga Naam E Muhammad

 

ए मौला एक बार दिखा दे जलवा कमली वाले का

तन मन वारा जिस ने दिखा चेहरा कमली वाले का

 

Ae Maula Ik Baar Dikha De Jalwa Kamli Wale Ka

Tan Man Wara Jis Ney Dikha Chehra Kamli Waley Ka

 

इल्म ऐसा भी ना दे खुद को कहूँ उन जैसा

इससे बेहतर मौला मुझे जाहिल कर दे

 

Islamic aala hazrat shayari

 

Ilm Aisa bhi na de khud ko kahuñ un jaisa

Isse behtar mere maula mujhe jaahil kar de

 

Status aala hazrat shayari

 

aala hazrat shayari image
aala hazrat shayari image

जिस ख्वाब में हो जाए

दीदार-ए-नबी हासिल

ए इश्क़ कभी मुझ को

नींद ऐसी सुला जाना

 

Jis Khawab Mai Ho Jaye

Deedar-E-Nabi Hasil

Aee Ishq Kabhi Mujh Ko

Neend Essi Sula Jana

 

दुनियाँ को देखना भी गवारा ना किया

जब तक अली ने देखा ना चेहरा रसूल का

नारा राजा का लगता है दुनियां में इसलिए

अहमद राजा के लब पर था नारा रसूल का

 

Duniya ko dekhna bhi gawara na kiya

Jab tak ali ne dekha na chehra rasool ka

Naara raja ka lagta hai duniya mein isliye

Ahmed raja ke lab par tha naara rasool ka

 

जिस दिन से हुआ हूँ मैं गदा आपके दर का

दामन मेरा उस दिन से मुरादों से भरा है

 

Jis din se hua hu main gadaa aapke dar ka

Daaman mera us din se muradon se bhara hai

 

Islamic aala hazrat shayari

 

मुझे भी चश्मे करम मेरे खुदा जो जाए

यानी दीदार मदीने का अता हो जाए

 

Mujhe bhi chashme karam mere khuda ho jaye

Yaani deedar madine ka ataa ho jaye

 

आला हज़रत के नाम पर

मुस्कुरा देना भी

ईमान की पहचान है

 

Aala hazrat ke naam par

Muskura dena bhi

Imaan ki pehchan hai

 

Aala hazrat shayari lyrics

 

दिलनशीं लगता था कितना

सारा मंजर ख़ाक पर

जिस घड़ी बिछता था उनका

शाही बिस्तर ख़ाक पर

भीख मिलती है सभी को

आपके दरबार से

आपसा देखा ना कोई

बंदापरवर ख़ाक पर

 

Dilnashin lagta tha kitna

Sara manzar khaak par

Jis ghadi bichhta tha unka

Shaahi bistar khaak par

Bheekh milti hai sabhi ko

Aapke darbar se

Aapsa dekha na koi

Banda Parwar khaak par