चुगलखोरों पर शायरी | New Status 2022

चुगलखोरों पर शायरी

दोस्तों आज हम आपके लिए चुगलखोरों पर शायरी संग्रह लेकर आये हैं, इस शायरी संग्रह में हम चुगलखोर लोगों पर शायरी आपके साथ शेयर करेंगे। यह शायरी ऐसे लोगों पर है जो एक जगह की बात दूसरी जगह जाकर बता देते हैं, या फिर यूँ कहें कि आपसे सुनी हुई बात जो आपके दुश्मन तक पहुंचा दे उसको हम चुगलखोर कहते हैं।

 

ऐसे ही चुगखोर लोगों पर हम आपके लिए chugalkhor quotes, chugalkhor shayari and chugalkhor status लेकर आये हैं। ऐसे चुगलखोर लोगों को आप यह चुगलखोरों पर शायरी, चुगलखोरों पर स्टेटस भेज सकते हो।

 

यदि आपको सरल भाषा मे चुगलखोरों के बारे में बताए तो इनका काम होता है एक जगह की बात को दूसरी जगह पर चुगली कर पहुंचाना।

ऐसे लोग हमारे लिए बहुत खतरनाक हो सकते हैं इसलिए चुगलखोरों से दूरी बना कर रखें और अपने फ्रेंड सर्कल में से ऐसे लोगों को पहचान कर उनसे आज ही दूर हो जाएं। तो चलिए नीचे चुगलखोरों पर शायरी देखते हैं।

 

चुगलखोरों पर शायरी | Chugalkhor par shayari

 

जो दूसरों की बातें आपको बताते हैं

ऐसे लोग ही चुगलखोर कहलाते हैं

इन्हें ना बताओ अपने दिल की बात

यह आपकी चुगली भी करके आते हैं

 

Jo dusron ki baatein aap ko batate hai

Aise log hi chugalkhor kehlate hai

Inhe na batao apne dil ki baat

Yeh aapki chugli bhi karke aate hai

 

 

चुगलखोरों से हमेशा दूर रहिए

भूल कर भी दिल की बातें इन्हें ना कहिए

 

Chugalkhoro se humesha door rahiye

Bhool kar bhi dil ki baatein inhe na kahiye

 

 

यह तुम्हारी आदत तुम मिटा दो

चुगली करना छोड़ कुछ काम कर लो

 

Yeh tumhari aadat tum mitaa do

Chugli karna chhod kuch kaam kar lo

 

 

दूर रहो चुगली करने वालों से

यह तुम्हें डूबा देंगे

बातें ना बताओ दिल की उन्हें

यह तुम्हें फसा देंगे

 

Door raho chugli karne walo se

Yeh tumhe dooba denge

Baatien na batao dil ki inhe

Yeh tumhe fasana denge

 

चुगलखोरों पर शायरी

 

जिसे आदत हो चुगली करने की

उससे दूरी बना कर रखो

ऐसे लोगों के सामने अपने दिल की

कोई बात ना कहो

 

Jise aadat ho chugli karne ki

Usse doori banaa kar rakho

Aise logon ke samne apne dil ki

Koi baat naa kaho

 

 

चुगलखोरों की तरह यह बातों का

आदान प्रदान करना छोड़ दो

यह चुगली करना नहीं छोड़ सकते

तो फिर हमसे यह दोस्ती तोड़ दो

 

Chugalkhoro ki tarah yeh baaton ka

Adan pradan karna chhod do

Yeh chugli karna nahi chhod sakte

Toh fir humse yeh dosti tod do

 

 

चुगलखोर वो यहाँ की बात वहां बताता है

तभी तो वो चुगलखोर कहलाता है

 

Chugalkhor woh yaha ki baat waha batata hai

Tabhi toh woh chugalkhor kehlata hai

 

 

चुगलखोरों से जितना हो सके बच कर रहो

इनके आगे किसी भी बात को सच ना कहो

 

Chugalkhoro se jitna ho sake bagh kar raho

Inke agey kisi bhi baat ko sachh na kaho

 

 

चुगलखोरों में रहकर वो भी ऐसा बन गया

हमारा यार हमारी चुगली गैरों में कर गया

 

Chugalkhoro mein rehkar woh bhi aisa ban gaya

Humara yaar humari chugli gairon mein kar gaya

 

चुगलखोरों पर शायरी

 

चापलूसी चुगलखोरी अच्छी नहीं होती

इधर की बात उधर बताना अच्छी नहीं होती

 

Chaplusi chugalkhori achhi nahi hoti

Idhar ki baat udhar batana achhi nahi hoti

 

 

चुगली करना क्यों तुम छोड़ नहीं देते

जलना छोड़ क्यों तुम अच्छी ज़िंदगी नहीं जीते

 

Chugli karna kyun tum chhod nahi dete

Jalna chhod kyu tum achi zindagi nahi jeete

 

 

छोड़ दो ऐसे लोगों को

जो दूसरों की बातें आपको बताते हैं

ऐसे लोग इतने गिरे होते हैं

के आपकी बातें भी दूसरों को बताते हैं

 

Chhod do aise logon ko

Jo dusron ki baatein aap ko batate hai

Aise log itne gire hote hai

Ke aapki baatein bhi dusron ko batate hai

 

 

चुगलखोरों पर स्टेटस

 

मुझे दूसरों से अब

ज्यादा घुलना मिलना ना भाता है

मुझे चुगलखोरों से दूर रहकर

अब सुकून सा मिल जाता है

 

Mujhe dusron se ab

Jyada ghulna milna na bhaata hai

Mujhe chugalkhoro se door rehkar

Ab sukoon sa mil jata hai

 

 

चुगली करने की आदत

किसी मे भी हो सकती है

यह बुराई किसी की भी

लुटिया डूबो सकती है

 

Chugli karne ki aadat

Kisi me bhi ho sakti hai

Yeh burai kisi ki bhi

Luttiya doobo sakti hai

 

चुगलखोरों पर शायरी

 

चुगलखोरों से जब तक दूर रहोगे तुम

तभी प्रगति की सीढ़ियाँ चढ़ोगे तुम

 

Chugalkhoro se jab tak door rahoge

Tum tabhi pragati ki sidhiyan chadhoge

 

 

जो आपसे जलते हैं, वो अक्सर आपकी चुगली

आपके दुश्मनों के सामने करते हैं

ऐसे लोग बिना माचिस खुद तो जलते हैं

मगर दूसरों के घरों में भी आग लगाया करते हैं

 

Jo aapse jalte hai, woh aksar aap ki chugli

Aapke dushmano ke samne karte hai

Aise log bina machis khud toh jalte hai

Magar dusron ke gharon me bhi aag lagaya karte hai

 

 

दोस्ती में दोस्त को आज़माना मत

दोस्त का बताया हुआ राज़ किसी को बताना मत

 

Dosti mein dost ko azmana mat

Dost ka bataya hua raaz kisi ko batana mat

 

चुगलखोरों पर शायरी

 

किसी की बात किसी और को

बताने से बचना चाहिए

खास कर किसी दोस्त की बुराई

किसी और के पास

जाकर नहीं करनी चाहिए

 

Kisi ki baat kisi aur ko

Batane se bachna chahiye

Khaas kar kisi dost ki burai

Kisi aur ke paas

Jakar nahi karni chahiye

 

 

किसी चुगलखोर को अपना यार मत बनाना

इनका काम होता है इधर की बात उधर सुनाना

और बना भी लो तो उसे अपने राज़ मत बताना

वरना एक दिन तुम्हें पड़ जायेगा पछताना

 

Kisi chugalkhor ko apna yaar mat banana

Inka kaam hota hai idhar ki baat udhar batana

Aur bana bhi lo toh usey apne raaz mat batana

Warna ek din tumhe pad jayega pachtana

 

 

Last Words On चुगलखोरों पर शायरी

 

दोस्तों आज के इस आर्टिकल में हमने चुगलखोरों पर शायरी आपके साथ साँझा की, यदि आपके फ्रेंड सर्किल में कोई ऐसे लोग हैं जो एक कि चुगली दूसरे के पास करते हैं तो उनके साथ इस पोस्ट में दी हुई शायरी को शेयर करें।

आप इस शायरी को अपने व्हाट्सएप एवं फेसबुक पर भी डालकर उनको यह शायरी दिखा सकते हैं। यदि आपका कोई जानकार ऐसा होगा तो वह खुद ही समझ जाएगा कि यह शायरी और स्टेटस आपने उसके लिए डाला है।

 

Read More: 👇