Best Pakistani Shayari In Hindi & Urdu | पाकिस्तानी उर्दू शायरी (2022)

Best Pakistani Shayari In Hindi & Urdu

Friends, today we are going to share Pakistani Shayari with you, in Pakistani Urdu poetry, the poetry of famous poets of Pakistan will be shared with you.

पाकिस्तान के बहुत शायर हुए हैं जिनके द्वारा उर्दू पाकिस्तानी शायरी एक से बढ़ कर एक लिखी गयी है। आज हम उन्हीं पाकिस्तान के मशहूर शायरों की Pakistani urdu shayari को हिंदी में आपके साथ सांझा करेंगे।

इस Pakistani shayari collection में Pakistani Shayari In Urdu, Pakistani Shayari In Hindi, Pakistani Shayari 2 Line और पाकिस्तान के मशहूर शायरों की शायरी देखने को मिलेगी। हमें उम्मीद है कि आपको यह शायरी जरूर पसंद आएगी तो चलिए दोस्तों इस शायरी संग्रह को शुरू करते हैं:-

Nusrat Fateh Ali Khan Shayari and quotes | best nfak lines (2022)

 

Pakistani Shayari | पाकिस्तानी उर्दू शायरी

 

Pakistani Shayari In Urdu

Nasha Pila Ke Girana 

Toh Sab Ko Aata Hai

Maza Toh Jab Hai Ke

Girton Ko Thaam Le Saaki…

नशा पिला के गीराना तो सब को आता है

मज़ा तो जब है के गिरतों को थाम ले साकी।।

  • अल्लामा इक़बाल

 

पाकिस्तानी शायरी हिंदी उर्दू फ़ोटो

Yeh Samjh Ke Maana Hai

Sach Tumhari Baaton Ko

Itne Khubsurat Lab

Jhooth Kaise Bolenge…

ये समझ के माना है सच तुम्हारी बातों को 

इतने ख़ूब-सूरत लब झूट कैसे बोलेंगे

  • शहज़ाद अहमद

 

Urdu Pakistani Shayari

Kaise Kahein Ki Tujh Ko Bhi

Hum Se Hai Vaasta Koi

Tu Me Toh Hum Se Aaj Tak

Koi Gilaa Nahi Kiya…

कैसे कहें कि तुझ को भी हम से है वास्ता कोई 

तू ने तो हम से आज तक कोई गिला नहीं किया 

  • जौन एलिया

 

Sitaron Se Aage Jahan Aur Bhi Hain

Abhi Ishq Ke Imtihan Aur Bhi Hai…

सितारों से आगे जहान और भी हैं

अभी इश्क़ के इम्तिहान और भी हैं।।

  • Allama Iqbal

 

पाकिस्तान शायरों की शायरी

Main Tera Kuch Bhi Nahi Hu

Magar Itna Toh Bataa

Dekh Kar Mujh Ko Tere

Jahan Mein Aata Kya…

मैं तिरा कुछ भी नहीं हूँ मगर इतना तो बता 

देख कर मुझ को तिरे ज़ेहन में आता क्या है

  • शहज़ाद अहमद

 

Pakistani Shayari In Urdu

Ab Ke Hum Bichde To Shayad

kabhi Khwabon Mein Milein

Jis Tarah Sukhe Huye Phool

Kitabon Mein Milein…

अब के हम बिछड़े तो शायद कभी ख़्वाबों में मिलें 

जिस तरह सूखे हुए फूल किताबों में मिलें

  • अहमद फ़राज़

 

Janta Hu Ek Aise Shakhs Ko Main Bhi “MUNEER”

Gahm Se Pathhar Ho Gaya Lekin Kabhi Roya Nahi…

जानता हूँ एक ऐसे शख़्स को मैं भी ‘मुनीर’ 

ग़म से पत्थर हो गया लेकिन कभी रोया नहीं

  • मुनीर नियाज़ी

 

पाकिस्तानी शायरी हिंदी में

Pakistani shayari urdu

Yaaro Kuch Toh Zikar Karo Tum

Uski Qayamat Baahon Ka

Woh Jo Simtte Honge Un Mein

Woh Toh Mar Jate Honge…

यारो कुछ तो ज़िक्र करो तुम

उस की क़यामत बाँहों का

वो जो सिमटते होंगे उन में

वो तो मर जाते होंगे

  • जौन एलिया

 

Pakistani Urdu Shayari

Ab Dil Ki Tamanna Hai Toh

Ae Kaash Yahi Ho

Aansu Ki Jagah Aankh Se

Hasrat Nikal Jaaye…

अब दिल की तमन्ना है तो ऐ काश यही हो 

आँसू की जगह आँख से हसरत निकल आए

  • अहमद फ़राज़

 

Mohabbat Ab Nahi Hogi

Yeh Kuch Din Baad Mein Hogi

Guzar Jayenge Jab Yeh Din

Yeh Un Ki Yaad Mein Hogi…

मोहब्बत अब नहीं होगी

ये कुछ दिन ब’अद में होगी 

गुज़र जाएँगे जब ये दिन

ये उन की याद में होगी

  • मुनीर नियाज़ी

 

पाकिस्तानी शायरी उर्दू में

Garmi Lagi Toh Khud Se

Alag Ho Kr So Gaye

Sardi Lagi Toh Khud Ko

Dobara Pehan Liya…

गर्मी लगी तो ख़ुद से अलग हो के सो गए

सर्दी लगी तो ख़ुद को दोबारा पहन लिया

  • बेदिल हैदरी

 

Aankhon Se Tune Mujh Ko

Pilai Thi Woh Sharab

Mere Badan Mein Aaj Bhi

Us Ka Khumar Hai…

आँखों से तू ने मुझ को पिलाई थी वो शराब 

मेरे बदन में आज भी उस का ख़ुमार है

  • दुआ अली

 

Pakistani Shayari Urdu

Hum Tum Mein Kal Bhi Doori Ho Sakti Hai

Wajah Koi Majboori Bhi Ho Sakti Hai…

हम तुम में कल दूरी भी हो सकती है 

वज्ह कोई मजबूरी भी हो सकती है

  • बेदिल हैदरी

 

Toote Hain Khawab Mere Ab

Dafan In Ko Kar Do

Dohra Bhi Kyun Rahe Ho

Us Bewafa Ki Baatein…

टूटे हैं ख़्वाब मेरे अब दफ़्न इन को कर दो

दोहरा भी क्यों रहे हो उस बेवफ़ा की बातें

  • दुआ अली

 

Tumhara Hizar Manaa Lu

Agar Ijazat Ho

Main Dil Kisi Se Laga Lu

Agar Ijazat Ho…

तुम्हारा हिज्र मना लूँ अगर इजाज़त हो 

मैं दिल किसी से लगा लूँ अगर इजाज़त हो

  • जौन एलिया

 

Pakistani Shayari In Hindi

 

urdu shayari for pakistani

दिल ना-उमीद तो नहीं नाकाम ही तो है 

लम्बी है ग़म की शाम मगर शाम ही तो है।।

  • फ़ैज़ अहमद फ़ैज़

Dil Na-umeed To Nahi

Nakaam Hi Toh Hai

Lambi Hai Gham Ki Sham

Magar Shaam Hi To Hai…

 

जुदाइयों के ज़ख़्म दर्द-ए-ज़िंदगी ने भर दिए

तुझे भी नींद आ गई मुझे भी सब्र आ गया 

  • नासिर काज़मी

Judaiyon ke Zakhm Dard-ae-zindagi Ne Bhar Diye

Tujhe Bhi Neend Aa Gayi Mujhe Bhi Sabar Aa Gaya…

 

Best Pakistani Shayari

चेहरे पे मिरे ज़ुल्फ़ को फैलाओ किसी दिन 

क्या रोज़ गरजते हो बरस जाओ किसी दिन

  • अमजद इस्लाम अमजद

Chehre Pe Mere Zulf Ko Failao Kisi Din

Kya Roz Garajte Ho Baras Jao Kisi Din…

 

ज़माना हो गया ख़ुद से मुझे लड़ते-झगड़ते 

मैं अपने आप से अब सुल्ह करना चाहता हूँ 

  • इफ़्तिख़ार आरिफ़

Zamana Ho Gaya Khud Se Mujhe Ladte Jhagadte

Main Apne Aap Se Ab Sulah Karna Chahta Hu…

 

pakistani shayari urdu me

आँख से दूर न हो दिल से उतर जाएगा

वक़्त का क्या है गुज़रता है गुज़र जाएगा

  • अहमद फ़राज़

Aankh Se Door Na Ho

Dil Se Utar Jayega

Waqt Ka Kya Hai

Guzrta Hai Guzar Jayega…

 

Pakistani Shayari With Images

कुछ तो हवा भी सर्द थी

कुछ था तिरा ख़याल भी

दिल को ख़ुशी के साथ साथ

होता रहा मलाल भी।।

  • परवीन शाकिर

Kuch Toh Hawa Bhi Sard Thi

Kuch Tha Tera Khayal Bhi

Dil Ko Khushi Ke Sath Sath

Hota Raha Malaal Bhi…

 

pakistani shayari hindi urdu

बेखुदी ले गयी कहाँ हमको,

देर से इंतेज़ार है अपना

रोते फिरते हैं सारी सारी रात,

अब यही रोज़गार है अपना।

  • मीर मुहम्मद तकी मीर

Bekhudi Le Gayi Kaha Humko

Der Se Intezaar Hai Apna

Rote Firte Hain Saari Saari Raat

Ab Yahi Rozgar Hai Apna…

 

Pakistani Shayari Status

ख़्वाब की तरह बिखर जाने को जी चाहता है,

ऐसी तन्हाई कि मर जाने को जी चाहता है।।

  • इफ़्तिख़ार हुसैन आरिफ़

Khawab Ki Tarah Bikhar

Jane Ko Jee Chahta Hai

Aisi Tanhai Ki Marr

Jane Ko Jee Chahta Hai…

 

Pakistani Shayari In Urdu

 

बिगड़ी हुई इस शहर की हालत भी बहुत है 

जाऊँ भी कहाँ इस से मोहब्बत भी बहुत है

  • शहज़ाद अहमद

Bigadi Hui Is Sheher Ki

Halat Bhi Bahut Hai

Jau Bhi Kaha Is Se

Mohabbat Bhi Bahut Hai…

 

pakistani shayari status

पत्ता-पत्ता बूटा बूटा, हाल हमारा जाने है,

जाने न जाने ”गुल” ही,

न जाने, बाग़ तो सारा जाने है।।

  • मीर मुहम्मद तकी मीर

Patta Patta Butta Butta,

Haal Hamara Jane Hai

Jane Na Jane Gull Hi

Na Jane, Baag To Sara Jane Hai…

 

Pakistani shayari in Urdu

याद है अब तक तुझ से

बिछड़ने की वो अँधेरी शाम मुझे 

तू ख़ामोश खड़ा था

लेकिन बातें करता था काजल।।

  • नासिर काज़मी

Yaad Hai Ab Tak Tujh Se

Bichhadne Ki Woh Andheri Shaam Mujhe

Tu Khamosh Khada Tha

Lekin Baatein Karta Tha Kajal…

 

अपने मन में डूब कर पा जा सुराग़-ए-ज़ि़ंदगी 

तू अगर मेरा नहीं बनता न बन अपना तो बन 

  • Allama Iqbal

Apne Mann Mein Doob Kar

Paa Ja Suragh-ae-zindagi

Tu Agar Mera Nahi Banta

Na Ban Apna Toh Ban…

 

pakistani shayari 2 lines

हम तुझसे किस हवस की फलक जुस्तजू करें

दिल ही नहीं रहा है जो कुछ आरज़ू करें।।

  • Khwaja Meer Dard

Hum Tujhse Kis Hawas Ki Falak Justju Karein

Dil Hi Nahi Raha Hai Jo Kuch Arzoo Karein…

 

Famous Pakistani Shayari

अब तो इस राह से वो शख़्स गुज़रता भी नहीं

अब किस उम्मीद पे दरवाज़े से झाँके कोई।।

  • परवीन शाकिर

Ab Toh Is Raah Se Woh Shakhs

Guzarta Bhi Nahi

Ab Kis Umeed Pe Darwaze

Se Jhanke Koi…

 

pakistani shayari photos

एक महफ़िल में कई महफ़िलें होती हैं शरीक

जिस को भी पास से देखोगे अकेला होगा।।

  • अमजद इस्लाम अमजद

Ek Mehfil Mein Kayi Mehfilein Hoti Hain Shareek

Jis Ko Bhi Paas Se Dekhoge Akela Hoga…

 

दिल पागल है रोज़ नई नादानी करता है,

आग में आग मिलाता है फिर पानी करता है।।

  • इफ़्तिख़ार हुसैन आरिफ़

Dil Pagal Hai Roz Nayi Nadani Karta Hai

Aag Mein Aag Milata Hai Fir Paani Karta Hai…

 

Pakistani Shayari 2 Lines

 

मुझ को तो होश नहीं तुम को ख़बर हो शायद

लोग कहते हैं कि तुम ने मुझे बर्बाद किया।।

  • जोश मलीहाबादी

Mujh Ko Toh Hosh Nahi Tum Ko Khabar Ho Shayad

Log Kehte Hain Ki Tumne Mujhe Barbaad Kiya…

 

Pakistani Shayari Jaun Elia

कितने ऐश से रहते होंगे, कितने इतराते होंगे

जाने कैसे वो लोग होंगे, जो उसको बहाते होंगे।।

  • जौन एलिया

Kitne Aish Se Rehte Honge

Kitne Itrate Honge

Jane Kaise Woh Log Honge

Jo Usko Bahate Honge…

 

Sad Pakistani Shayari

आसाँ तो नहीं अपनी हस्ती से गुज़र जाना 

उतरा जो समुंदर में दरिया तो बहुत रोया।।

  • ख़ुर्शीद रिज़वी

Aasan Toh Nahi Apni Hasti Guzar Jana

Utra Jo Samundar Mein Dariya Toh Bahut Roya…

 

ज़िंदगी तुझ से हर इक साँस पे समझौता करूँ 

शौक़ जीने का है मुझ को मगर इतना भी नहीं।।

  • मुज़फ़्फ़र वारसी

Zindagi Tujhse Har Ik

Saans Pe Samjhauta Karu

Shonk Jeene Ka Hai Mujhko

Magar Itna Bhi Nahi…

 

Pakistani Shayari Love

इस तरह होश गँवाना भी कोई बात नहीं 

और यूँ होश से रहने में भी नादानी है।।

  • मुस्तफ़ा ज़ैदी

Is Tarah Hosh Gawana Bhi Koi Baat Nahi

Aur Yun Hosh Se Rehne Mein Bhi Nadani Hai…

 

Pakistani Shayari Images

सुना है ग़ैर की महफ़िल में तुम न जाओगे 

कहो तो आज सजा लूँ ग़रीब-ख़ाने को।।

  • क़मर जलालवी

Suna Hai Gair Ki Mehfil Mein Tum Na Jaoge

Kaho Toh Aaj Sajaa Lu Gareeb Khane Ko…

 

दुनिया को भूल कर तिरी दुनिया में आ गया 

ले जा रहा है कौन इधर से उधर मुझे।।

  • क़मर जलालाबादी

Pakistani Shayari In English

 

Duniya Ko Bhool Kar Teri Duniya Mein Aa Gaya

Le Jaa Raha Hai Kon Idhar Se Udhar Mujhe…

 

फ़क़त मेहनत मशक़्क़त का नतीजा कम निकलता है 

दुआ जब माँ की शामिल हो तो फिर ज़मज़म निकलता है।।

  • रुख़्सार नाज़िमाबादी

Fakat Mehnat Mushakkat Ka Natija Kam Niklta Hai

Dua Jab Maa Ki Shamil Ho Toh Fir Zamzam Niklta Hai… 

 

पाकिस्तानी उर्दू शायरी इन हिंदी

 

Pakistani Shayari in Hindi Urdu

उठ कर तो आ गए हैं तिरी बज़्म से मगर 

कुछ दिल ही जानता है कि किस दिल से आए हैं।।

  • फ़ैज़ अहमद फ़ैज़

Uth Kar Toh Aa Gaye Hain

Teri Bazam Se Magar

Kuch Dil Hi Janta Hai Ki

Kis Dil Se Aaye Hain…

 

नहीं शिकवा मुझे कुछ बेवफाई का तेरी हरगिज़

गिला तब हो अगर तूने किसीसे भी निभाई हो।।

  • Khwaja Meer Dard

Nahi Shikwa Mujhe Kuch

Bewafai Ka Teri Hargiz

Gilaa Tab Ho Agar Tune

Kisi Se Bhi Nibhai Ho…

Pakistani Shayari Hindi

 

इस का रोना नहीं क्यूं तुमने किया दिल बर्बाद 

इस का ग़म है कि बहुत देर में बर्बाद किया।।

  • जोश मलीहाबादी

Is Ka Rona Nahi Kyun 

Tumne Kiya Dil Barbad

Is Ka Gham Hai Ki Bahut

Der Mein Barbad Kiya…

 

Pakistani Shayari in hindi

भेजा हुआ है और न बुलाया हुआ है दर्द 

मेहमान बन के दिल में समाया हुआ है दर्द।।

  • ख़्वाजा अली हुसैन

Bheja Hua Hai Aur Na Bulaya Hua Hai Dard

Mehmaan Ban Ke Dil Mein Samaya Hua Hai Dard…

 

Best Pakistani Shayari In Hindi

ख़ुद मिरी आँखों से ओझल मेरी हस्ती हो गई 

आईना तो साफ़ है तस्वीर धुँदली हो गई।।

  • मुज़फ़्फ़र वारसी

Khud Meri Aankhon Se Ojhal Meri Hasti Ho Gayi

Aaina Toh Saaf Hai Tasveer Dhundhli Ho Gayi…

 

रूह के इस वीराने में तेरी याद ही सब कुछ थी 

आज तो वो भी यूँ गुज़री जैसे ग़रीबों का त्यौहार।।

  • मुस्तफ़ा ज़ैदी

Rooh Ke Is Veerane Mein

Teri Yaad Hi Sab Kuch Thi

Aaj Toh Woh Bhi Yun Guzri

Jaise Gareebon Ka Tyohar…

 

Pakistani Urdu Shayari In Hindi

कभी कहा न किसी से तिरे फ़साने को 

न जाने कैसे ख़बर हो गई ज़माने को।।

  • क़मर जलालवी

Kabhi Kaha Na Kisi Se Tere Fasane Ko

Na Jane Kaise Khabar Ho Gayi Zamane Ko…

 

Pakistani Shayari Hindi Me

चलने का हौसला नहीं

रुकना मुहाल कर दिया

इश्क़ के इस सफ़र ने तो

मुझ को निढाल कर दिया।।

  • परवीन शाकिर

Chalne Ka Hausla Nahi

Rukna Muhaal Kar Diya

Ishq Ke Is Safar Ne Toh

Mujh Ko Nidhaal Kar Diya…

111+ जाने माने शायरों की शायरी | मशहूर शायरों की शायरी | Best अज्ञात शायरों की शायरी

 

यह सभी शायरियां पाकिस्तान के मशहूर और पुराने शायरों द्वारा कही गयी हैं, यहाँ पर पाकिस्तान के महशूर शायरों की 2-2 शायरियों को हमने आपसे सांझा किया है, हमें उम्मीद है कि आपको यह Pakistani Shayari Collection पसन्द आया होगा।। List Of Pakistani Shayar

Scroll to Top